आत्मविश्वास का महत्व क्या है ? विस्तार-पूर्वक जाने|

आत्मविश्वास – किसी भी क्षेत्र (subject ) या विषय में सफलता प्राप्ति हेतु मंजिल target पाने के लिए आत्मविश्वास का होना बहुत जरुरी होता है| इससे  इन्सान असंभव लगने वाले लक्ष्य को भी सहज एवं सरलता से achieve कर लेता है | सफल होने के लिए जिस प्रकार ”रचनात्मक सोच ,उत्कृष्ट नजरिया तथा ‘वैचारिक जहर से दूरी’का होना”आवश्यक है,उसी प्रकार आत्मविश्वास (confidence) का होना भी बहुत जरुरी है| क्योंकि इसके ( confidence OR self confidence) अभाव में सफलता की गारंटी नहीं मान सकते |

आत्मविश्वास क्या है ?

आत्मविश्वास वह ऊर्जा है, जो सफलता की राह में आने वाली अडचनों ,कठिनाइयों एवं परेशानियों से मुकाबला करने के लिए व्यक्ति को साहस प्रदान करती है |

आत्मविश्वास इंसान की एक मानसिक और आध्यात्मिक शक्ति है | आत्मविश्वास से ही हमारे विचारों को आजादी प्राप्त होती है | आत्मविश्वास ही एक ऐसी शक्ति है जिससे महान कार्यों के संपादन में सफलता और सरलता मिलती है | जो इंसान आत्मविश्वास से भरपूर है उसे किसी तरह की कोई चिंता नहीं होती, जैसे कि भविष्य की चिंता करना | जिनमें आत्मविश्वश की कमी होती है,वो लोग हमेशा सन्देह और चिंताओं से घिरे रहते हैं, और सेल्फ कॉन्फिडेंस से भरा हुआ व्यक्ति हमेशा इन बातों से मुक्त रहता है इसके बिना जीवन में सफल होना बहुत ही मुश्किल है |

आत्मविश्वास कैसे बढ़ाये? – How to build self confidence 

  1. नकारात्मक विचारों को पहचानें और उनसे दूरी बनाए |
  2. ऐसे लोगों के साथ रहें जो आपका self confidence बढ़ाने में मदद कर सकते हैं |
  3. प्रशंसा को स्वीकार करें |
  4. अपने हुनर को पहचानें |
  5. confidence OR self confidence के लिए खुद की तुलना औरों से न करें |
  6. self confidence के लिए अपनी गलतियों से सीखें |

आत्मविश्वास को मजबूत करे| कुछ इस प्रकार-

अतः पनी  ‘capacity ,productivity अथवा quality को मेहनत-पूर्वक बढ़ाकर और स्वयं पर ”पूर्ण भरोसा”  कर अपने self confidence को मजबूत  करे | आत्मविश्वास के अभाव में आपके दिमाग (mind) में आने वाले उत्तम विचार भी व्यर्थ चले जाते है| क्योंकि विचारो का महत्व तभी होता है| जब उन पर अमल किया जाये| तथा उन्हें कार्य रूप में परिणत  किया जाये| और यदि (व्यक्ति में ) आत्मविश्वास का अभाव होगा तो ऐसे उत्तम विचारो का कोई उपयोग नहीं हो पाता है| इसलिए जब भी ऐसे उत्तम विचार आये ,उन्हें ” कार्य रुप” दे देना चाहिए| तथा दिमागी मैमोरी से “असंभव ,यह नहीं हो सकता ,यह कठिन है”ऐसे शब्दों को (delete) पूर्णतया निकाल देना चाहिए| तथा जिन उचित कार्यो को करने से (fear ) डर लगे ,उन्हें बार -बार करने का अभ्यास करना चाहिए| सफल लोग यही सोच (अमीर सोच अथवा बड़ी सोच) अपनाते है |

यह भी पढ़े वैचारिक जहर से बचो विकास करो|

आत्मविश्वास का महत्व

आत्मविश्वास सफलता की कुंजी है | जो व्यक्ति के जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है | छात्रों को अपने करियर में उत्कृष्टता प्राप्त करने और जीवन में सफल होने के लिए आत्मविश्वास प्राप्त करने का अभ्यास करना चाहिए |यदि आप आत्मविश्वासी हैं, तो आपके जीवन में सफलता की संभावनाएं अधिक हैं |

confidence OR self confidence से ही विचारों की स्वाधीनता प्राप्त होती है और इसके कारण ही महान कार्यों के सम्पादन में सरलता और सफलता मिलती है | इसी के द्वारा आत्मरक्षा होती है | जो व्यक्ति self confidence से ओत-प्रोत है, उसे अपने भविष्य के प्रति किसी प्रकार की चिन्ता नहीं रहती | उसे कोई चिन्ता नहीं सताती |

सफलता और will power

शुरु-शुरु में कठिनाईया जरूर महसूस  होगी ,लेकिन थोड़े समय बाद ही आसान भी लगेगे| तथा आपका आत्मविश्वास (will power) आसमान छुने लगेगा| तथा वे कठिन कार्ये  भी ‘रूचिकर’ (easy) लगेगे, जिनसे सफलता  प्राप्ति का रास्ता मिलता है|

Quality of life “आदते” आपके जीवन की quality तय करती है |

self confidance प्रत्येक के लिए महत्वपूर्ण होता है| यह हमे महत्वपूर्ण होने  का अहसास कराता है| ‘जब हम स्वयं को महत्वपूर्ण समझने लगेगें तो हम सोचने भी महत्वपूर्ण ही लगेगे|’ क्योकि विचारो के प्रति हमारा नजरिया ही हमारी सोच को बढ़ाने में संजीवनी बुटी का काम करता है| अतः confidence OR self confidence का सफलता के साथ गहरा समबन्ध है|

यह भी पढ़े        कैसे बने चैम्पियन दौलत के खेल में

जिस प्रकार जीवन के लिए भोजन की अवश्यकता होती है| उसी प्रकार सफलता के लिए  (confidence) आत्म विश्वास की जरूरत होती है| हमे (confidence) आत्म विश्वास को मजबूत (strong)  बनाना चाहिए|

अतः संक्षेप में जितना मजबूत आपका आत्मविश्वास उतनी बड़ी सफलता तथा उतने ही मजबूत आप| इसलिए निरंतर असंभव  एवं कठिन लगने वाले ”वे कार्य जो व्यक्ति एवं समाज के लिए उचित और महत्वपूर्ण हो उन्हें बार-बार करके अपने आत्मविश्वास को मजबूत (strong) बनाये”| विदित रहे आत्मविश्वास से बड़ी कोई शक्ति नहीं ,वह असंभव को भी संभव कर दिखाती है |

आत्मविश्वास क्या है?

आत्मविश्वास को मजबूत कैसे करे ?

अतः अपनी ‘capacity ,productivity अथवा quality को मेहनत-पूर्वक बढ़ाकर और स्वयं पर ”पूर्ण भरोसा” कर अपने आत्मविश्वास को मजबूत करे |

self confidence का will power के साथ क्या संबंध है ?

self confidance प्रत्येक के लिए महत्वपूर्ण होता है| यह हमे महत्वपूर्ण होने का अहसास कराता है| ‘जब हम स्वयं को महत्वपूर्ण समझने लगेगें तो हम सोचने भी महत्वपूर्ण ही लगेगे|’ क्योकि विचारो के प्रति हमारा नजरिया ही हमारी सोच को बढ़ाने में संजीवनी बुटी का काम करता है| अतः confidence OR self confidence का सफलता के साथ गहरा समबन्ध है|

आत्मविश्वास

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के लिए  हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है | हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें |

13 thoughts on “आत्मविश्वास का महत्व क्या है ? विस्तार-पूर्वक जाने|”

  1. स्वयं पर विश्वास रखे (Believe in yourself)लक्ष्य बनाये (Make smart Goals)एवं उन्हें पूरा करने के लिये वचनबद्ध रहे जब आप अपने दाृृृरा बनाये गये लक्ष्य (Goals) को पूरा करते है तो यह आपके आत्म विश्वास (self confidence) को कई गुना बढा देता है

    Reply

Leave a Comment

%d bloggers like this: