Tuesday, May 21, 2024
Homeबड़ी सोचproblem solver बनो problem creator नहीं,जानिए क्यों ?

problem solver बनो problem creator नहीं,जानिए क्यों ?

problem solver बनो- मित्रों problem solver बनो problem creator नहीं। क्योंकि हमारे पास वही लोटकर आता है जो, हम दूसरों को देते है। फिर वह problem हो या प्रसंशा, धन हो अथवा मान-सम्मान। हाँ यदि अनावश्यक problem आ जाये तो घबराना भी नहीं चाहिए। क्योंकि कठिनाईया ही हमे मजबूती और sharp mind प्रदान करती है। अपने आपको बड़ा बनाओ तब समस्याए स्वतः ही न्यून अथवा छोटी लगेंगी।

problems आने पर क्यों नहीं घबराए ?

problem आ जाये तो इसलिए नहीं घबराना चाहिए। क्योंकि कठिनाई युक्त संघर्ष के समय ही हमे, अपनी क्षमताओ का पता चलता है और दूसरों को हमारी योग्यता का पता चलता है। कभी भी इनसे घबराना नहीं चाहिए। बल्कि इन्हे अवसर के रूप मे लेना चाहिए और अपनी skills को निखारना चाहिए। विदित रहे आवश्यकता ही आविष्यकार की जननी है। समस्या ही हमे problem solver बनाती है।

problem solver बनो

Problem Solver Overview

Name Of Article problem solver बनो
problem solver बनो Click Here
Category Badi Soch
Facebook follow-us-on-facebook-e1684427606882.jpeg
Whatsapp badisoch whatsapp
Telegram unknown.jpg
Official Website Click Here

problems ही हमे problem solver बनाती है और लोगों से परिचय करवाती है।कैसे ?

problem युक्त समय ही हमे, परायों मे छुपे अपने हितैषी लोगों का तथा अपनों मे छुपे परायों का बोध कराती है।  समस्याओ का आगमन ही हमे problem solver बनाता है। बस खुद मे धैर्य और समस्याओ से जूझने का जज्बा होना चाहिए। बड़ी सोच अपनाए। विदित रहे हमे भी दूसरों के लिए सदैव हितैषी भाव अथवा सकारात्मक विचार रखना चाहिए और problem solver बनना चाहिए problem creator नहीं। क्योंकि हमारे पास वही लोटकर आता है, जो हम दूसरों को देते है।

problem solver कैसे बने ?

  • समस्या को पिन करें।
  • मुद्दों की पहचान करें।
  • हल करने के तरीकों के बारे में सोचना शुरू करें।
  • समाधान को क्रियान्वित करना शुरू  करें।
  • उन परिकल्पनाओं की पूरी सूची बना ले।
  •  सभी मुद्दों को हल करने हेतु अपने प्रयासों को प्राथमिकता दे।
  • अपना विश्लेषण करें।

निष्कर्ष 

यदि हम दूसरों के दुख दूर करने में उनकी सहायता करेंगे, तो हमारी problem solver की capacity बढ़ेगी तथा हमारे अपने दुख भी स्वयं दूर होते जाएंगे। कहा गया है कि, जीवन में जो भी चाह आप रखते हो, यदि उसी का दान आप दूसरों को करते हैं, तो आपकी चाह अवश्य पूरी होती है। इसलिए ‘कर भला तो हो भला’ वाली नीति अथवा problem creator नहीं अपितु problem solver का मंत्र जीवन में जो अपनाता है, उसे शुभकामना रूपी धन का अकूत खजाना मिलता है। और उसका भविष्य उज्ज्वल और सुखमय बन जाता है।

Related Post:- 

जीवन में लक्ष्य का होना जरूरी है! It is important to have goals in life

लोक व्यवहार PDF: लोक व्यवहार पुस्तक हिंदी में पढ़े 

Success define सफलता की परिभाषा क्या है?

parmender yadav
parmender yadavhttps://badisoch.in
I am simple and honest person
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular