प्यार किसे कहते हैं :- जानिए प्यार में सबसे जरुरी क्या होता है ?

अगर हमको असल में जानना है की ” प्यार किसे कहते हैं ” तो हमें सबसे पहले जिसके भी साथ हमारा रिलेशन है, अगर उसके होने का हमें एहसास है तो हम प्यार को आसानी से समझ सकते है।

प्रेम की पाँच सीढ़िया है |

प्यार किसे कहते हैं , जानिए प्रेम की पाँच सीढ़िया  –

1 -देखना

2 -चाहना

3 -अच्छा लगना

4 -पान

ये चारों सीढ़िया तो बहुत सरल है |

लेकिन पाँचवी सीढी सबसे कठिन है |

5 -निभाना

प्यार किसे कहते है

प्यार किसे कहते है? जानिए प्यार मे सबसे जरूरी क्या होता है?

अगर आपने भी कभी किसी से सच्चा प्यार किया है, तो आपके भी साथ ऐसा ही कुछ जरूर होता होगा।

हमको हर समय ऐसा लगता है, जब हम प्यार में होते की वो मेरे पास ही है ऐसा एक एहसास होता रहता है।

जब हम प्यार में होते है, तो सामने वाले के होने का एहसास हमको बार-बार होता है और वो एहसास ही हमको प्यार तक लेकर जाता है।

प्यार अगर एक एहसास है तो वो प्यार हमें एक अलग ही फीलिंग देता है, जो फीलिंग बड़ी ही कमाल की होती है।

प्यार को हम अपने अंदर ही महसूस कर सकते है और जब उसको महसूस कर लेते है, तो हमको प्यार किसे कहते है, ये भी समझ आने लगता है।

प्यार हमारी life का एक बहुत ही बड़ा अनुभव होता है, जिसको अगर हम दिल से महसूस कर लेते है तो हमारी लाइफ बहुत ही कमाल की हो जाती है।

सच्चा प्यार किसे कहते हैं ?

जब भी हम प्यार में होते है तो हम प्यार के अनेको रूपों को महसूस करते है और वो महसूस करना ही असल में प्यार की फीलिंग होती है।

हम जब किसी के साथ रिलेशन में होते है तो हमारे साथ प्यार में हर दिन कुछ अलग होता है जो की प्यार के ही अलग-अलग रंग-रूप होते है।

प्यार में इंसान कुछ ऐसा महसूस कर रहा होता है, जो की उसके जीवन को एक नया रूप देता है। ये प्यार जब होता है तो इंसान का जीवन बहुत ही खुशियों से भर जाता है, उसके लिए हर एक चीज़ खूबसूरत बन जाती है।

जब ये प्यार होता है तो हमारे माइंड में सिर्फ और सिर्फ सामने वाले को लेकर अच्छे ख्याल ही आते है, हमारी सोच सामने वाले इंसान के लिए पूरी तरह से बदल जाती है और हम सिर्फ उसके लिए हमेशा अच्छा ही सोचते है।

हमारा रिलेशन जिसके भी साथ होता है, अगर उसकी और हमारी समझ ऐसी बन जाये जो की बहुत ही कमाल की हो तो वो प्यार होता है।

प्यार में जब सामने वाला आपकी मै की परिभाषा में और आप उसकी मैं की परिभाषा में आ जाते हो तो वो असल में प्यार की परिभाषा होती है।

रिलेशन और प्यार ये दोनों चीज़े इंसान के जीवन को बहुत ही कमाल का बना देते है, अगर हमको रिलेशन को संभालना है तो हमको कुछ काम करने की जरुरत है, क्योकि हमको उस रिलेशन को आखिर तक लेकर जाना है।

प्यार को अनुभव करने के लिए हमको सबकुछ छोड़ देना होता है, हम जब भी किसी के साथ होते है, अगर हम अपने-आप को भुलाकर उसके साथ प्यार में होते है तो वो असल प्यार होता है।

हमारे अंदर जब भी ये मैं पैदा होता है तो हम कभी प्यार को अनुभव नहीं कर सकते है, किसी इंसान के होने को अगर हम सच्चे दिल से महसूस कर पाते है तो उसे हम सच्चा प्यार कहते है।

अब हम बात करते है कि दो लोग जब प्यार में होते है तो उनके लिए सबसे जरूरी क्या होता है, ऐसा जो उनको और पास ले आये।

प्यार में क्या जरुरी होता हैं ?

जब किसी इंसान से प्यार करते हो तो सामने वाले को ये बताना भी जरुरी होता है कि आप उससे कितना प्यार करते है ? क्योकि जब तक आप ये नहीं बताएंगे सामने वाला कभी भी आपके प्यार को नहीं समझ पायेगा।

आपके रिश्ते में हर समय प्यार बना रहे इसके लिए जरुरी है कि आप सामने वाले के सामने अपना प्यार जताये और उसको बताये की आप उससे कितना प्यार करते है, हर इंसान की इच्छा होती है कि उसका पार्टनर उसके साथ प्यार भरी बाते करे और उसके साथ टाइम spend करे, इसलिए हम आपके साथ कुछ बातें शेयर करने जा रहे है, अगर आप अपने पार्टनर को ये दे पाते हो तो आप एक अच्छी relation को पा सकते हो।

1. quality time बिताये

प्यार में या किसी relation में अगर आप आखिर तक रहना चाहते हो तो आपके अंदर ये क्वालिटी होनी ही चाहिए, अगर आप अपने love के साथ quality time बिता रहे हो तो आपके रिलेशन की bonding बहुत ही ज्यादा मजबूत होगी।

2. प्यार भरी बाते करे।

टाइम के साथ-साथ दूसरी सबसे जरुरी चीज़ है प्यार भरी बाते करना, आप टाइम तो बहुत बिता रहे हो लेकिन बातें आप बिल्कुल भी नहीं कर रहे हो और बातें कर भी रहे है तो ऐसी बातें जो उस रिलेशन को और कमजोर बना रहा होता है।

प्यार भरी बातों का मतलब है कि आपको दिन कम से कम एक बार i love you बोलना है और एक बार उसको गले लगाना है, अगर आप सिर्फ इतना भी करने लग जाते है और वो भी अपने पुरे दिल से तो आप असल में प्यार को महूसस कर रहे होते है।

अगर आप ये सबकुछ महसूस कर सकते हो तो आप ये भी महसूस कर सकते हो कि प्यार किसे कहते है ?

यह भी पढ़े – How to Change Yourself खुद को कैसे बदले

प्यार एक एहसास हैं।

प्यार को इस धरती पर रहने वाला हर प्राणी महसूस करता है। जब मैं ‘जीव’ कहता हूँ तो चौंकिए मत क्योंकि यह केवल मनुष्य का गुण नहीं है। पौधे और जानवर हर कोई इस अजीब भावना से परिचित है। हालांकि प्रेम की इस अनूठी भावना का वर्णन करने के लिए कोई परिभाषा नहीं है, यह किसी न किसी के प्रति लगाव और स्नेह की भावना की विशेषता है।

भावना इतनी प्रबल है कि ऐसा कहा जाता है कि यह दुनिया को घुमाती है। यदि आप अभी भी सोच रहे हैं कि प्रेम हमारे जीवन में इतना महत्वपूर्ण क्यों है, तो इसका उत्तर यह है कि यह मनुष्य की भावनात्मक जरूरतों को पूरा करता है।

मनुष्य में प्रेम देने और महसूस करने का जन्मजात गुण होता है। यह प्रेम की भावना है, जो समाज के अस्तित्व और रखरखाव के लिए जिम्मेदार है। जब एक बच्चा पैदा होता है, तो माता-पिता अपनी भूख, नींद भूल जाते हैं, क्योंकि वे अपने बच्चे से बहुत प्यार करते हैं। प्रेम का मधुर परमानंद मनुष्य को उन कार्यों को पूरा करने में सक्षम बनाता है जो उसकी शक्तियों के बिना संभव नहीं होते है।

आखिर में -प्यार किसे कहते हैं ?

प्यार की इस भावना की महिमा ऐसी है कि यह मनुष्यों को एक दूसरे के साथ दया और करुणा के साथ व्यवहार करने की अनुमति देती है। वास्तव में यह कहा जा सकता है कि प्रेम से कई प्रकार की भावनाएं पैदा होती हैं। यह कोई रिश्ता हो सकता है जो हमें एक साथ बांधता हो; प्रेम विभिन्न रूपों में सर्वव्यापी है।

दोस्तो, आज हमने आपके साथ शेयर किया है कि ” प्यार किसे कहते है ?आशा करता हूँ कि आपको ये हमारा आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा, इसको अपने प्यार के साथ शेयर करे। धन्यवाद

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के लिए  हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है | हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें |

 

Leave a Comment

%d bloggers like this: