सौभाग्यशाली कैसे बने ?

सौभाग्यशाली- अक्सर आपने सुना या कहा होगा कि ,वह आदमी तो सौभाग्यशाली है। या वह  तो किश्मत का धनी है। कई लोगो को यह विश्वास होता है कि भौतिक सफलता सौभाग्यशाली अवसरों का परिणाम होती है। इस विश्वास के पीछे आधार  है। लेकिन  कर्म का सौभाग्यशाली बनने में बहुत बड़ा हाथ होता है। आइए जानते है, विस्तार पूर्वक कि ”सौभाग्यशाली कैसे बने?”

लगन के साथ किया गया कर्म अक्सर सफलदायक होता है। विदित रहे, जो केवल किस्मत के भरोसे ही बैठे रहते है ,वे लगभग हमेशा निराश ही होते है।

सौभाग्यशाली  

 सौभाग्यशाली बनने मे महत्वपूर्ण तत्व क्या है?

जो व्यक्ति महत्वपूर्ण तत्व ”लगन” को नजरअंदाज कर देते है, वे अक्सर निराश ही होते है। लगन एक ऐसा गुण है, जिसके द्वारा आप अपनी सफलता सुनिश्चित कर सकते हो। यही वह ज्ञान है, जिसके द्वारा आप सौभाग्यशाली अवसर create कर सकते हो।

अमीरी हो या सफलता ये सिर्फ कल्पनाओ से नहीं आती है, बल्कि ये योजनाओ की प्रतिक्रियास्वरूप ही आती है। जिनके पीछे निश्चित इच्छाएं हो और निरंतर लगन हो, वे सौभाग्यशाली बनते है। इसलिए लगन को आदत में डालिए, सफलता या सौभाग्यशाली जरुर बनोगे।

positive words : सकारात्मक शब्दों की ताकत क्या होती है ? प्रेरणात्मक कहानी से जानिए Save Water article कैसे बचाएँ पानी (पानी बचाने के उपाय)
importance of education शिक्षा क्या हैं? शिक्षा का महत्व what is importance of a tree ,क्या है पेड़ों का महत्व जानिए?

लगनशील कैसे बने?

लगन की आदत डालने के लिए यह जरुरी नहीं कि आपमें बहुत अधिक बुद्धि हो। या आप बहुत बड़े डिग्रीधारी हो। बल्कि आपमे  दृढ इच्छा होना चाहिए। लगन की आदत डालने के चार आसान क़दम निम्न है।

  1. first. आपका निश्चित लक्ष्य होना चाहिए। उसे प्राप्त करने की आपकी प्रबल इच्छा होनी चाहिए।
  2. second. लक्ष्य प्राप्ति के लिए एक योजना होनी चाहिए। जिस पर लगातार काम किया जाना चाहिए।
  3.  third . एक या एक से अधिक ऐसे व्यक्तियों से मित्रतापूर्ण गठबन्धन जो आपके लक्ष्य प्राप्ति को support करे। आपकी योजना को सफल बनाने के लिए आपको निरंतर प्रोत्साहित करे।
  4. fourth .आपकी सोच बड़ी एवं सकारात्मक होनी चाहिए। जिसमे नकारात्मक विचारो के लिए कोई जगह नहीं होनी चाहिए। चाहे मित्र हो या रिश्तेदार नकारात्मक सलाहकारो से दूरी जरुरी है। अपने मस्तिष्क में हतोत्साहित करने वाले विचारो को नहीं आने देना चाहिए। अक्सर ऐसा सोचे ”मै लक्ष्य के बिलकुल नजदीक हूँ ।”

यह भी पढ़े – कैसे बने चैम्पियन दौलत के खेल में

आप सौभाग्यशाली है।

अतः आप ऊपर लिखित महत्वपूर्ण विचारो को follow कर सफल और सौभाग्यशाली है।

  • यही वे कदम है जो अमीरी की ओर ले जाते है।
  •  यही वे क़दम है जो विचार की स्वतंत्रता की ओर ले जाते है।
  • सफल और सौभाग्यशाली बनाने वाले यही कदम आपको शक्ति ,प्रसिद्धि और सांसारिक प्रतिष्ठा का रास्ता दिखाते है।
  • यही वे चार कदम है, जो आपको लाभदायक ”अवसरों ” की guarantee देते है।
  • महत्वपूर्ण अर्थात यही वो कदम है, जो सपनो को साकार करते है। और
  •  यही वे क़दम है जो आपको डर ,हताशा ,उदासीनता पर विजय दिलवाते है।

निष्कर्ष 

अतः इन्हें अपनाकर आप सफल और सौभाग्यशाली हो। अक्सर कोई आदमी एक काम जैसे करता है, लगभग हर काम कुछ उसी तरह करता है। काम करने का नजरिया ही उसे असफल या सफल अथवा सौभाग्यशाली बनाता है।

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के लिए  हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है । हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें ।

41 thoughts on “सौभाग्यशाली कैसे बने ?”

Leave a Comment

%d bloggers like this: