Biography about Albert Einstein अल्बर्ट आइंस्टीन की जीवनी |

अल्बर्ट आइंस्टीन की जीवनी।  Biography about Albert Einstein in Hindi

Biography about Albert Einstein | आज हम एक ऐसे महान भौतिक विज्ञानी की बात करने जा रहे हैं। जिन्होंने ब्रह्मांड की परिभाषा को पूरी तरह से ही बदल कर रख दिया है। एक ऐसा वैज्ञानिक जिन्होंने हम एक गुरुत्वाकर्षण के बारे में बताया कि, वह किस तरह से काम करता है। उनके सिद्धांतों की वजह से हम समय यात्रा को सोच सकते हैं और समझ सकते हैं। जी हां, दोस्तों हम बात कर रहे हैं महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन के बारे में। जिन्होंने हमें बताया था कि अगर हम लाइट की रफ्तार से चलें तो उसका आंसर क्या होगा ?

Biography about Albert Einstein- उन्होंने विज्ञान की दुनिया में कई ऐसे सिद्धांत बताए हैं और कई ऐसे परीक्षण किए है, जिन्होंने विज्ञान जगत में एक नई क्रांति ला दी है। अलवर टाइम अल्बर्ट आइंस्टीन को 20 वीं सदी का नायक माना जाता है। और उनको अब तक का सबसे बुद्धिमान व्यक्ति भी माना जाता है। 1921 के अंदर इनको नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। इसी वजह से आज हम आपके साथ में दुनिया के सबसे महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन के बारे में आपको बताने जा रहे हैं, आइए जानते है विस्तार से Biography about Albert Einstein अल्बर्ट आइंस्टीन की जीवनी-

अल्बर्ट आइंस्टीन का बचपन और शुरुआती शिक्षा

14 मार्च 1879 को जर्मनी के अंदर एक यहूदी परिवार में हुआ था। उनके पिता का नाम हरमन आइंस्टीन और माता का नाम पॉलिन आइंस्टीन था। उनके पिता एक इंजीनियर थे और सेल्समैन भी। जो कि मुख्य रूप से बिजली के उपकरणों की सप्लाई किया करते थे।

आइंस्टीन के जन्म के 2 साल बाद ही उसकी बहन का जन्म हुआ था। जिसका नाम माजा था। आइंस्टीन अपनी बहन के जन्म पर बहुत ज्यादा खुश था। अल्बर्ट दूसरों बच्चे की तुलना में काफी अलग था। क्योंकि उसका सर बाकी बच्चों की तुलना में बहुत बड़ा था और उनको बोलने में भी परेशानी होती थी।

अक्सर ऐसा कहा जाता है कि, अल्बर्ट आइंस्टीन 4 वर्षों तक कुछ भी नहीं बोले थे। इस बात पर उसके माता-पिता काफी परेशान थे। लेकिन एक दिन जब वह खाना खा रहे थे तब अल्बर्ट ने अपने माता-पिता को कहा कि सूफ़ काफी गर्म है। और पहली बार आइंस्टीन की आवाज को सुनकर उनके माता-पिता बहुत ज्यादा खुश हुए थे।

ऐसी सोच बदल देगी जीवन
कैसे लाए बिज़्नेस में एकाग्रता
SEO क्या है – Complete Guide In Hindi बड़ी सोच से कैसे बदले जीवन

insurance क्या होता है ? जानिए विस्तार से

अमीरों के रास्ते कैसे होते है

बचपन से ही अल्बर्ट आइंस्टीन को अकेले में रहना और अकेले में घूमना पसंद था। वह हमेशा प्रकृति के बारे में ही सोचता रहता था। 5 साल की होने पर अल्बर्ट के पिता ने उसको जन्मदिन के तोहफे के रुप में एक दिशा सूचक यंत्र दिया जिसको पाकर अल्बर्ट बहुत ज्यादा खुश हुआ। लेकिन उसके मन में उस यंत्र को देखकर बार-बार एक सवाल आता था कि इस कंपास की सुई हमेशा उत्तर दिशा में ही क्यों रहती है। और यहां से शुरुआत होती है उसके एक नए जीवन की।

अल्बर्ट को स्कूल जाना बिल्कुल भी पसंद नहीं था। उसको स्कूल एक कैद के खाने जैसा लगता था, अल्बर्ट ने वायलिन बजाना भी सीखा था और उसके बाद उसको संगीत से प्यार होने लग गया था।

अल्बर्ट को स्कूल जाना इसलिए पसंद नहीं था, क्योंकि यहूदी होने के कारण उसको स्कूल में बच्चे चिढ़ाते थे। अल्बर्ट मुख्य रूप से धार्मिक किताबों को भी पढ़ता था और उसने धर्मों को समझने की भी कोशिश की थी। 16 साल की उम्र में अल्बर्ट गणित के कठिन से कठिन सवालों को भी बड़ी आसानी के साथ में हल कर देते थे।

Biography about Albert Einstein आइंस्टीन के आविष्कार –

1939 के अंदर अल्बर्ट आइंस्टीन ने एटॉमिक बम को बनाने में अपना बहुत अहम योगदान दिया था। और 1945 के अंदर उनका सबसे प्रसिद्ध समीकरण E=mc square का आविष्कार हुआ था। अब हम बात करते हैं अल्बर्ट आइंस्टीन के आविष्कार के बारे में-

1. प्रकाश की क्वांटम थ्योरी

इस थ्योरी के अंदर उन्होंने ऊर्जा की एक ऐसी थैली की रचना की थी। इसके अंदर तरंग जैसी विशेषता थी, जिसको हम फोटोन भी कहते हैं। इसके अंदर उन्होंने धातुओं के अंदर उपस्थित इलेक्ट्रोंस के उत्सर्जन को भी समझाया था। इसके बाद उन्होंने टेलीविजन का आविष्कार किया जो की शिल्प विज्ञान के द्वारा दर्शाया जाता है।

2. E=mc square

अल्बर्ट ने ऊर्जा और ब्राह्मण के मध्य एक समीकरण दिया और उसको प्रमाणित भी किया जिसको आज न्यूक्लियर ऊर्जा भी कहा जाता है।

3. अल्बर्ट का रेफ्रिजरेटर –

यह अल्बर्ट का सबसे छोटा आविष्कार हुआ था। जिसकी वजह से वह बहुत ज्यादा प्रसिद्ध हुए थे। इस रेफ्रिजरेटर के अंदर ज्यादा से ज्यादा अमोनिया, पानी, ब्यूटेन और अधिक से अधिक ऊर्जा का उपयोग हो सकता है। और इसके अलावा इसकी उपयोगिता को ध्यान में रखते हुए इस रेफ्रिजरेटर का आविष्कार किया गया था।

4. आसमान नीला होता है –

यह एक बहुत ही सरल सा प्रमाण था कि आसमान नीला क्यों होता है इसके ऊपर अल्बर्ट आइंस्टीन ने अनेकों प्रकार की दलीले पेशकश की थी।

Biography about Albert Einstein रोचक तथ्य –

  • अल्बर्ट बिना पेपर पहन के बहुत सारे प्रयोगों को और सवालों को हल कर देते थे।
  • Albert Einstein बचपन में बहुत ही कम बोलने वाले और पढ़ाई के अंदर कमजोर थे।
  • अल्बर्ट आइंस्टीन को नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
  • आइंस्टीन को राष्ट्रपति पद के लिए भी मौका मिला था।
  • अल्बर्ट आइंस्टीन यूनिवर्सिटी के दाखिले की परीक्षा में फेल हुए थे।
  • अल्बर्ट आइंस्टीन का सफलता का मंत्र था “अभ्यास “

Biography about Albert Einstein अल्बर्ट आइंस्टीन के पुरस्कार –

  • 1921 के अंदर भौतिकी का नोबेल पुरस्कार।
  • 1925 के अंदर कोपले मेडल।
  • मैक्स प्लांक मैडल 1938
  • शताब्दी के टाइम पर्सन का पुरस्कार 1999
  • अल्बर्ट आइंस्टीन की मृत्यु 18 अप्रैल 1955 में हुई थी।

आज हमने बात की है “Biography about Albert Einstein अल्बर्ट आइंस्टीन की जीवनी” आशा करते हैं कि आपको अल्बर्ट आइंस्टीन के बारे में कुछ अच्छी जानकारी मिली होगी, अगर आपको यह लेख पसंद आया तो इसको लाइक और शेयर जरूर करें धन्यवाद।

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के लिए  हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है | हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें |

Leave a Comment

%d bloggers like this: