Thursday, June 20, 2024
HomeHealthThyroid Symptoms in Hindi : थायराइड की समस्या और इसके लक्षण जानिए...

Thyroid Symptoms in Hindi : थायराइड की समस्या और इसके लक्षण जानिए विस्तार से

Thyroid Symptoms in Hindi –  दुनिया में बहुत से लोग ऐसे हैं जो थायरॉइड (Thyroid) की समस्या से परेशान है। आज 10 में से 4 लोग थायराइड की समस्या से ग्रस्त हैं। थायरॉइड तितली के आकार की एक ग्रंथि होती है। यह गर्दन के अंदर और कॉलरबोन के ठीक ऊपर होती है। thyroid एक प्रकार की एंडोक्राइन ग्रंथि है, जो हार्मोन्स को बनाती है। यह समस्या महिलाओं को अधिक प्रभावित करती है। thyroid दो तरह का होता है – हाइपरथायरॉइडिज्म और हाइपोथायरॉइड।

 

थायरॉइड (Thyroid Symptoms in Hindi) के लक्षण

  • घबराहट।
  • चिड़चिड़ापन।
  • अधिक पसीना आना।
  • हाथों का काँपना।
  • बालों का पतला होना एवं झड़ना।
  • अनिद्रा।
  • -मांसपेशियों में कमजोरी एवं दर्द रहना।
  • -दिल की धड़कन बढ़ना।
  • -बहुत भूख लगने के बाद भी वजन घटता है।
  • -महिलाओं में मासिक धर्म की अनियमितता।

Thyroid Symptoms in Hindi

Thyroid Symptoms Details

Name Of Article Thyroid Symptoms in Hindi
Thyroid Symptoms Click Here
Category Badi Soch
Facebook follow-us-on-facebook-e1684427606882.jpeg
Whatsapp badisoch whatsapp
Telegram unknown.jpg
Official Website Click Also

Also read –  Best easiest save water ways

थायरॉइड क्या है?

थायरॉइड गले में पाई जाने वाली तितली के आकार की एक ग्रंथि होती है। ये सांस की नली की ऊपर होती है। यह मानव शरीर में पाई जाने वाली सबसे बड़ी अतस्रावी ग्रंथियों में से एक होती है। इसी थायरॉइड ग्रंथि में गड़बड़ी आने से ही Thyroid से संबंधित रोग होते हैं। Thyroid ग्लैंड थ्योरिकसिन नाम का हार्मोन बनाती है। ये हार्मोन हमारे शरीर के मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है और बॉडी में सेल्स को नियंत्रित करने का काम करता है। थायरॉइड हार्मोन हमारे शरीर की सभी प्रक्रियाओं की गति को नियंत्रित करता है। शरीर की चयापचय क्रिया में भी Thyroid ग्रंथि खास योगदान होता है।

Thyroid Symptoms in Hindi : Thyroid Diet में इन चीजों का करें सेवन

आयोडीन- thyroid के मरीज को आयोडीनयुक्त भोजन करना चाहिए। आयो‍डीन Thyroid Gland के दुष्प्रभाव को कम करता है।

मछली- इसमें ज्‍यादा मात्रा में आयोडीन पाया जाता है। वैसे तो सभी मछलियों में आयोडीन पाया जाता है, लेकिन समुद्री मछलियों में ज्‍यादा मात्रा में आयोडीन होता है।

डेयरी प्रोडक्ट्स- दूध और दही में पर्याप्त मात्रा में विटामिन, मिनरल्स, कैल्शियम और अन्य पोषक तत्व पाए जाते हैं। दही खाने से शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती है।

मुलेठी- इसमें ऐसे पोषक तत्‍व पाए जाते हैं। जो थायराइड ग्रंथि को संतुलित करन में मदद करता है और थकान को मिटाता है।

सोया- सोया मिल्‍क, टोफू या सोयाबीन में ऐसे रसायन पाए जाते हैं। जो हार्मोन को सुचारू रूप से काम करने में मदद करते हैं। लेकिन इसके साथ साथ आपको आयोडीन की मात्रा को भी नियंत्रित रखना होगा।

Check also –  education quotes for students

थाइरॉइड Control करने के घरेलू उपाय

thyroid symptoms in Hindi : थायरॉइड की समस्या आजकल काफी आम हो गई है। पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में यह समस्या काफी ज्यादा नजर आ रही है। ऐसे में डाइट में कुछ बदलाव करके आप thyroid को कंट्रोल कर सकते हैं। ऐसी बहुत सी चीजें हैं जिन्हें खाकर आप थायरॉइड को कंट्रोल कर सकते हैं। जिनमें से एक है धनिया.

धन‍िया में मैग्‍न‍िश‍ियम, आयरन, मैग्‍नीज जैसे पोषक तत्‍व मौजूद होते हैं। धन‍िया में डाइटरी फाइबर भी मौजूद होता है। अन्‍य पोषक तत्‍वों की बात करें तो धन‍िया में व‍िटाम‍िन सी, के भी मौजूद होता है। ऐसे में आइए जानते हैं कैसे धनिया की मदद से आप थायरॉइड को कंट्रोल कर सकते हैं। thyroid को कम करने का यह काफी सही घरेलू उपाय है । ऐसे में आइए जानते हैं इसके फायदों के बारे में-

थायरॉइड में धनिया का सेवन करने के फायदे

  •  थायरॉइड में धनिया का सेवन करने से वजन कम होता है।
  • थायरॉइड की वजह से अगर बढ़ गया है आपका वजन, तो इस तरह करें कंट्रोल।
  •  थायरॉइड में धनिया का सेवन करने से हड्डियों में होने वाला दर्द से राहत मिलती है।
  • धन‍िया में एंटी-ऑक्‍सीडेंट्स गुण होते हैं ज‍िससे थायरॉइड रोग‍ियों को ड‍िप्रेशन नहीं होता।
  •  ब्‍लड शुगर लेवल बढ़ने से भी थायरॉइड बढ़ सकता है पर धन‍िया का सेवन करने से ब्‍लड शुगर कंट्रोल रहता है।

थायरॉइड कंट्रोल करने के लिए इस तरह करें धनिया का सेवन

थायरॉइड को कंट्रोल करने के लिए दो चम्‍मच धन‍िया को एक ग‍िलास पानी में रात भर के ल‍िए भ‍िगोकर रखना है। सुबह आप 10 म‍िनट के ल‍िए उबालें और फ‍िर पानी को छानकर पी लें तो थायरॉइड कंट्रोल करने में मदद म‍िलेगी।

थायरॉइड कंट्रोल करने के लिए इस तरह बनाएं धनिया पत्ती का जूस- रोज सुबह खाली पेट आपको धनि‍या के जूस का सेवन करना चाह‍िए। दो से तीन हफ्ते तक रोजाना धन‍िया का जूस पीने से थायरॉइड कंट्रोल कर सकते हैं।

Read here –  SEO क्या है – Complete Guide In Hindi

thyroid symptoms in Hindi: निष्कर्ष

हाइपरथायरॉइडिज्म इसके लक्षणों की बात करें तो वजन तेजी से बढ़ना, गर्दन में सूजन, हमेशा थकान , गुस्सा आना, स्किन ड्राई होना , ठंड लगना और डिप्रेशन होना शामिल है।

दूसरा हाइपोथायराइड( Hypothyroid) होता है जो वजन तेजी से गिरता जाता है। इसके लक्षणों की बात करें तो वजन घटना, तेज धड़कन , कमजोरी, बालों का झड़ना, पसीना ज्यादा आना है।

What is thyroid symptoms?

The signs and symptoms of hypothyroidism vary, depending on the severity of the hormone deficiency. Problems tend to develop slowly, often over a number of years. ... Thyroid gland Fatigue. Increased sensitivity to cold. Constipation. Dry skin. Weight gain. Puffy face. Hoarseness. Muscle weakness

thyroid symptoms के क्या लक्षण होते है?

इसके लक्षणों की बात करें तो वजन तेजी से बढ़ना, गर्दन में सूजन, हमेशा थकान , गुस्सा आना, स्किन ड्राई होना , ठंड लगना और डिप्रेशन होना शामिल है। दूसरा हाइपोथायराइड( Hypothyroid) होता है जो वजन तेजी से गिरता जाता है। इसके लक्षणों की बात करें तो वजन घटना, तेज धड़कन , कमजोरी, बालों का झड़ना, पसीना ज्यादा आना है।

कैसे जाने आपको thyroid है या नहीं?

इसका नॉर्मल टेस्ट रेंज 0.4 -4.0 mIU/L के बीच होती है। यदि आपका TSH का स्तर 2.0 से ज्यादा है, तो अंडरएक्टिव थायरॉइड यानी हाइपोथायरॉडिज्म बढ़ने का खतरा है। इसमें आपको वजन बढ़ने , थकान , अवसाद और नाखूनों के टूटने जैसे लक्षणों का सामना करना पड़ सकता है। जबकि TSH का कम स्तर ओवरएक्टिव थायरॉइड की निशानी है।

Related Posts

What is Web Hosting in Hindi?

depression meaning in Hindi

Best easiest save water ways

parmender yadav
parmender yadavhttps://badisoch.in
I am simple and honest person
RELATED ARTICLES

19 COMMENTS

  1. […] Thyroid test– थायरॉइड एक ऐसी बीमारी है, जो दुनियाभर में बहुत लोगों को होती है। आज 10 में से 4 लोग इस बीमारी से ग्रस्त हैं। थायरॉइड हार्मोन बॉडी के मेटाबॉलिज्म को रेगुलेट करते हैं। यह एक ऐसी प्रक्रिया है, जहां आप जो खाना खाते हैं, वह ऊर्जा में बदल जाता है और इसी ऊर्जा का इस्तेमाल शरीर द्वारा पूरे सिस्टम को काम करने के लिए किया जाता है। कहने को तो यह बीमारी बहुत आम है, बावजूद इसके (Thyroid test) लोग थायरॉइड के बारे में नहीं जानते। इनमें वो लोग भी हैं, जिन्हें खुद ये बीमारी है। इनमें से एक हैं इसके मेडिकल टर्म्स। अगर आप थायरॉइड से पीड़ित हैं और जब थायरॉइड के लिए खुद का टेस्ट कराते हैं, तो रिपोर्ट में T1, T2, T3, T4 TSH जैसे टर्म्स लिखे होते हैं। लेकिन क्या आप इनके बारे में जानते हैं । शायद नहीं। अगर आप खुद एक थायरॉइड रोगी हैं, तो Thyroid test रिपोर्ट में दिए गए इन टर्म्स के बारे में जरूर पता होना चाहिए। बता दें कि ये सभी थायरॉइड हार्मोन्स के तकनीकी नाम हैं । […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular