how to be happy in the life : खुश रहने का सबसे आसान तरीका क्या है ?

how to be happy in the life : क्या आपने कभी सोचा है कि इस दुनिया में खुश रहने का सबसे आसान तरीका क्या है ? आपने बहुत जगह पढ़ा होगा या फिर सुना होगा कि खुश रहने के लिए positive सोचे, अच्छा देखे, books पढ़े या फिर बहुत सी चीज़े ?

लेकिन मेरा आपसे एक सवाल है जब आप दुःखी होते है तो क्या आप ये सभी काम कर सकते है, इस दुनिया का कोई भी इंसान दुःख में ये काम नहीं कर सकता है, लेकिन जो तरीका हम आपको बताने वाले है उसको आप न सिर्फ दुःख में बल्कि खुशी में भी महसूस कर सकते है, वो हम आपके साथ share करने जा रहे है।

जीवन में कभी-कभी हम जैसा चाहते है वैसा हो जाता है और कभीं-कभी हम जैसा चाहते है वैसा नहीं हो पाता है या फिर कह लो की उसके बिल्कुल विपरीत ही होता है

हम सब हमेशा खुश ही रहना चाहते है कोई भी दुखी नहीं रहना चाहता है या फिर हम सब अपने लिए रोज़ एक अच्छा दिन चाहते है कोई भी अपने लिए बुरा दिन नहीं चाहता है लेकिन वो बुरा हो जाता है,क्योकि बहुत से कारण होते है बहुत सी परिस्थिति ऐसी हो जाती है की कुछ गलत न चाहते हुए भी गलत हो जाता है और जीवन में कुछ न कुछ तो होता ही रहता है और जो होना है वो वो तो होना ही है क्योकि हर चीज़ हमारे हाथ में नहीं होती है।

हम सभी दुःखी क्यों रहते है ?

हमारी सब की दुखी होने की सिर्फ एक वजह है हमारे पास जो भी है वो कम है मुझे और चाहिए अगर यदि मेरे पास साइकिल है तो मेरे को bike चाहिए अगर मेरे पास bike है तो मेरे को car चाहिए हमेशा ये more की भूख लगी रहती है।

जब तक हमको जो चाहिए वो मिल नहीं जाता है तब तक हमको उसके अलावा और कुछ भी नही दिखता है बस वो जो हमको चाहिए वो तो हर हाल में चाहिए ही फिर चाहे कुछ भी हो हम अपनी ख़ुशी उसी में ढूंढ़ते रहते है।

जब तक हमको कोई चीज़ नहीं मिलती है तब तक हम उसके पीछे पागल हुए रहते है चीज़ मिल जाती है हम उसका use कर लेते है और फिर उसके बाद और कुछ नया दिखते ही हमारा ध्यान उस पर चला जाता है।

फिर वो चीज़ हमको अपनी तरफ खींच लेती है और जिस भी चीज़ के पीछे हम पागल हुए होते है जब हमको वो चीज़ मिल जाती है जो हम फिर कहते है कि यार मजा नहीं आया जैसे मैने सोचा था वैसा तो ये बिल्कुल ही नहीं है।

जैसा हम सोचते है वो उसके तो बिल्कुल विपरीत ही निकलता है और बार -बार हम वही गलतिया करते रहते है और हम अपनी खुशिया वहा ढूढ़ते है असल में वहा पर तो ख़ुशी है ही नहीं वहा पर तो सिर्फ दर्द ही दर्द है।

क्योकि हम सब की एक बचपन से ही एक गलत setting की गयी है क्योकि हमारा ध्यान उस चीज़ की तरफ होता है जो हमारे पास नहीं होती है जो हमारे पास होता है उस पर तो कभी हमारा ध्यान गया ही नहीं है सुबह से लेकर श्याम तक पैसा -पैसा ही करते रहते है।

how to be happy in the life : खुश रहने का मूल मंत्र:-

कहते है कि तीन चीज़े इंसान के लिए बहुत जरुरी होती है। वो है रोटी,कपडा,मकान ये चीज़े बहुत जरुरी होती। अब इनमे से देखो की मेरे पास कौनसी चीज़ नहीं है। अगर इनमे से कोई चीज़ आपके पास नहीं होती है तो आपका दुखी होना बनता है। लेकिन जो भी ये article पढ़ रहे है शायद उनके पास ये तीनो चीज़े होगी।

इस दुनिया में कितने लोग पता नहीं मर जाते है सिर्फ रोटी की वजह से, रात को भूखा सोना पड़ता है, एक time का खाना भी नहीं मिल पता है तो उनके हिसाब से हम अमीर है या नहीं है।

पता नहीं कितने ही लोग मर जाते है जिनके पास कपडा नहीं होता है इन चीज़ो पे कभी भी हमारा ध्यान जाता ही नहीं है ऐसे हम कभी सोचते ही नहीं है हमारा mind कही और ही चल रहा होता है।

secret of success सफलता का रहस्य क्या है ?

सफलता के मूल मंत्र जानिए । success mantra
success definition सफलता की परिभाषा क्या है ? diligence यानि परिश्रम ही सफलता की कुंजी है । जानिए कैसे ?

इस दुनिया का हर इंसान खुश रहना चाहता है मगर वो खुश नहीं रह पता है क्योकि वो जहा पर ख़ुशी ढूढ़ता है वहा पर तो खुशिया है ही नहीं, ख़ुशी वहाँ है जब हमारा ध्यान वहा जाये जो हमारे पास होता है तब हम असल में खुश रह पाएंगे और इसके अलावा और कोई भी तरीका नहीं है।

हम ये सोचते है कि अगर मेरे पास सबकुछ हो तो मैं खुश रह सकता हूँ असल में ये दुनिया का सबसे बड़ा झूठ है अगर आपके पास ये सब कुछ भी आ जाये तब भी आप खुश (happy) नहीं रह सकते है क्योकि जो भी आपको मिला है उसको खोने का डर होगा पहले कुछ न मिलने का डर, मिलने के बाद उसको खोने का डर तो हम डर-डर कर ही जीते है और डर-डर कर ही मरते है और हमारी खुशियों की कही पर भी कोई बात भी नहीं होगी तो आपको कोई भी खुश नहीं करेगा आपको खुद को खुद ही खुश रखना पड़ेगा ।

how to be happy in the life : खुश रहने के क्या फायदे :-

खुश रहना हमारे मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए बहुत जरुरी होता है।

खुश रहने से हम अपने लक्ष्य को आसानी के साथ हासिल कर सकते है।

अगर कोई भी व्यक्ति अगर एक दिन में ज्यादा से ज्यादा समय खुद को खुश रखता है, तो उससे व्यक्ति का हृदय स्वस्थ तो रहता ही साथ-साथ उसका ब्लड प्रेशर भी सामान्य रहता है।

तनाव एक मानसिक विकार है, जिसके कारण व्यक्ति बहुत ज्यादा निशारावादी और नकारात्मक हो जाता है, खुश रहकर आप इनको दूर कर सकते है।

अगर आप अपनी जिंदगी में ख़ुश how to be happy in the life रहेंगे तो जीवन अच्छा व्यतीत होगा।

निष्कर्ष(conclusion):-

दोस्तों आज मैने जो भी इस article के अंदर बताया है वो कोई कहानी नहीं है जो कि मैने कही से सुनी है और न ही किसी books से पढ़ी है, ये सभी बाते मैने अपने जीवन के अनुभव के आधार पर आपके साथ share की है।

कहते है इस दुनिया का सबसे समझदार इंसान वो होता है जो कि दुसरो की गलती से सीख ले लेता है, अगर आप भी अपने जीवन में how to be happy in the life खुश रहना चाहते है तो इन बातें को आज से ही अपना ले।

अगर आपको ये हमारा article अच्छा लगा है तो इसको अपने दोस्तों के साथ share जरूर करे। धन्यवाद

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के लिए  हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है । हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें ।

1 thought on “how to be happy in the life : खुश रहने का सबसे आसान तरीका क्या है ?”

Leave a Comment

%d bloggers like this: