book pdf download : 3 best Hindi book pdf

book pdf download – The Power of Subconscious Mind PDF in Hindi | आपके अवचेतन मन की शक्ति बुक पीडीएफ हिंदी भाषा में। यह दुनिया की सबसे बेहतरीन किताबों में से एक है जिसमे आपको अपने भीतर के शौर्य और शक्ति को जगाने का तरीका पता चलेगा। इस बुक में आपको बहुत सारी ऐसी चीजे पढ़ने को मिलेंगे जो आपकी जिंदगी बादल देंगी।

book pdf download

यह किताब दुनिया की सबसे ज्यादा बिकने वाली किताबों में से एक है। इस किताब का हर चैपटर आपको आपके अवचेतन मन की शक्ति का आभाष कराएगा। यहाँ से आप बड़ी आसानी से (The Power of Your Subconscious Mind PDF in Hindi) आपके अवचेतन मन की शक्ति बुक पीडीएफ हिंदी में डाउनलोड कर सकते हैं।

आपके अवचेतन मन की शक्ति | Aapke Avachetan Man Ki Shakti

मनुष्य दुखी क्यों होता है? दूसरा खुश क्यों होता है? एक मनुष्य सुखी और समृद्ध क्यों होता है? दूसरा गरीब और दुखी क्यों होता है? एक मनुष्य भयभीत और तनावग्रस्त क्यों होता है? दूसरा आस्थावान तथा आत्मविश्वासी क्यों होता है? एक मनुष्य के पास सुंदर, आलीशान बंगला क्यों होता है? दूसरा झोपड़ी में क्यों रहता है? एक मनुष्य बहुत सफल और दूसरा बुरी तरह असफल क्यों होता है? क्या आपके चेतन और अवचेतन मन में इन प्रश्नों का कोई उत्तर मिल सकता है? निश्चित रूप से मिल सकता है । इस पुस्तक का अध्ययन करने और इसमें बताई तकनीक को अमल में लाने से आप उस चमत्कारिक शक्ति को जान लेंगे, जो आपको दुविधा, दुख, उदासी और असफ्रफ़लता के कुचक्र से बाहर निकलने में मदद करेगी।

यह चमत्कारी बुक आपको मंजिल तक पहुँचने में मदद देगी, आपकी समस्याएँ सुलझाएगी, आपको मानसिक और शारीरिक बेड़ियों से स्वतंत्र करेगी। यह आपको पुनः स्वस्थ, उत्साही और शक्तिशाली बना सकती है। जब आप अपनी आंतरिक शक्तियों का प्रयोग करना सीख लेंगे, तो आप भय की कैद से स्वतंत्र हो जाएँगे और सुखमय जीवन का आनंद लेंगे। यह पुस्तक मस्तिष्क की आधारभूत सच्चाइयों को आसान भाषा में समझाने की कोशिश है। जीवन और मस्तिष्क के आधारभूत नियमों को रोजमर्रा की सरल भाषा में समझाना पूरी तरह संभव है।

नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके आप (The Power of Your Subconscious Mind PDF in Hindi) आपके अवचेतन मन की शक्ति बुक पीडीएफ हिंदी भाषा में डाउनलोड कर सकते हैं।

book pdf download The Power of Subconscious Mind

सोचो और अमीर बनो बुक | Think and Grow Rich Book PDF in Hindi

No. of Pages
51
PDF Size
24.57 MB
Language Hindi

सोचो और अमीर बनो बुक | Think and Grow Rich Book Hindi

Think and Grow Rich Book (सोचो और अमीर बनो बुक पीडीएफ़ )  नेपोलियन हिल द्वारा लिखित एक महान पुस्तक है जिसमें लेखक ने सैकड़ों पुरुषों की सफलता की कहानियों की खोज की। इस पुस्तक के प्रत्येक अध्याय में, धन बनाने वाले रहस्य का उल्लेख किया गया है, जिसने पाँच सौ से अधिक धनी पुरुषों के लिए भाग्य बनाया है, जिनका मैंने वर्षों की लंबी अवधि में सावधानीपूर्वक विश्लेषण किया है।

यदि आप अमीर बनना चाहते हैं तो आपको अपने करियर में इस पुस्तक के विचारों और तकनीकों को लागू करना चाहिए। इस किताब को सफलता के नियम नेपोलियन हिल के नाम से भी जाना जाता है।

सोचो और अमीर बनो बुक PDF

सोचो और अमीर बनो किताब ने बहुत लोगों की जिंदगी बदली है। यह एक महान किताबों में से एक है। इस पुस्तक में वह रहस्य है, जिसे जीवन के लगभग हर दौर में, हजारों लोगों द्वारा व्यावहारिक परीक्षण के लिए रखा गया है। यह श्री कार्नेगी का विचार था कि जादू का सूत्र, जिसने उन्हें एक शानदार भाग्य दिया, उन्हें उन लोगों की पहुंच के भीतर रखा जाना चाहिए जिनके पास यह जांचने का समय नहीं है कि पुरुष पैसे कैसे बनाते हैं, और यह उनकी आशा थी कि मैं परीक्षण कर सकता हूं और प्रदर्शित कर सकता हूं हर कॉल में पुरुषों और महिलाओं के अनुभव के माध्यम से सूत्र की ध्वनि।

यह कोई उपन्यास नहीं है। यह व्यक्तिगत उपलब्धि पर एक पाठ्यपुस्तक है जो सीधे अमेरिका के सैकड़ों सबसे सफल पुरुषों के अनुभवों से आई है। इस पुस्तक को सभी उच्च विद्यालयों द्वारा अपनाया जाना चाहिए और किसी भी लड़के और लड़की को स्नातक की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए, क्योंकि इस पर संतोषजनक रूप से परीक्षा पास नहीं की गई है।

Think and Grow Rich book pdf download

वाल्मीकि रामायण | Srimad Valmiki Ramayana Hindi Book PDF

वाल्मीकीय रामायण संस्कृत साहित्य का एक आरम्भिक महाकाव्य है जो संस्कृत भाषा में अनुष्टुप छन्दों में रचित है। इसमें श्रीराम के चरित्र का उत्तम एवं वृहद् विवरण काव्य रूप में उपस्थापित हुआ है। महर्षि वाल्मीकि द्वारा रचित होने के कारण इसे ‘वाल्मीकीय रामायण’ कहा जाता है। वर्तमान में राम के चरित्र पर आधारित जितने भी ग्रन्थ उपलब्ध हैं उन सभी का मूल महर्षि वाल्मीकि कृत ‘वाल्मीकीय रामायण’ ही है।

वाल्मीकीय रामायण’ के प्रणेता महर्षि वाल्मीकि को ‘आदिकवि’ माना जाता है और इसीलिए यह महाकाव्य ‘आदिकाव्य’ माना गया है। यह महाकाव्य भारतीय संस्कृति के महत्त्वपूर्ण आयामों को प्रतिबिम्बित करने वाला होने से साहित्य रूप में अक्षय निधि है।

वाल्मीकि रामायण विशेषता

काव्यगुणों की दृष्टि से वाल्मीकीय रामायण अद्वितीय महाकाव्य है। विद्वानों का मत है कि यह महाकाव्य संस्कृत काव्यों की परिभाषा का आधार है। अन्य रचनाकारों के समक्ष उनकी रचनाशैली के लिये अनेक प्रेरक तथा पथ-प्रदर्शक ग्रन्थ रहे हैं किन्तु महर्षि वाल्मीकि के सम्मुख ऐसी कोई रचना नहीं थी जो उनका पथ-प्रदर्शन कर सके। अतः यह महाकाव्य पूर्णतः उनकी मौलिक कृति है। अपने इस महाकाव्य में महर्षि वाल्मीकि ने अद्वितीय शैली में प्रकृति-चित्रण, संवाद-संयोजन तथा विषय प्रतिपादन किया है।

प्राचीन ग्रन्थों में वाल्मीकीय रामायण का उल्लेख – अग्निपुराण, गरुड़पुराण, हरिवंश पुराण (विष्णु पर्व), स्कन्द पुराण (वैष्णव खण्ड), मत्स्यपुराण, महाकवि कालिदास रचित रघुवंश, भवभूति रचित उत्तर रामचरित, वृहद्धर्म पुराण जैसे अनेक प्राचीन ग्रन्थों में महर्षि वाल्मीकि एवं उनके महाकाव्य रामायण का उल्लेख मिलता है। वृहद्धर्म पुराण में इस महाकाव्य की प्रशंसा “काव्य बीजं सनातनम्” कह कर की गयी है।यही निम्नलिखित ग्रन्थ है।

 book pdf download Srimad Valmiki Ramayana

Leave a Comment

%d bloggers like this: