Computer Training Center : कैसे खोले Best कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर?

Computer Training Center-आज के आधुनिक और तकनीकी युग में, तेजी से कंप्यूटर टेक्नोलॉजी में हो रहे विकास के चलते, कंप्यूटर सीखना हर किसी की जरूरत बन चुका है । क्योंकि आज के समय में न सिर्फ कुछ मल्टीनेशनल कंपनी और बड़ी कंपनियों का काम ही कंप्यूटर पर ही आधारित हो गया है, बल्कि आज कंप्यूटर पर प्राइवेट, गर्वनेंट और बिजनेस सेक्टर सभी की निर्भरता बढ़ गई है। क्योंकि कंप्यूटर ने हर काम को बेहद आसान बना दिया है और इसमें किसी भी काम का रिकॉर्ड रखना बेहद आसान हो गया है।

overview Computer Training Center-

Contents

वहीं इस मॉडर्न और टेक्नोलॉजी के युग में कंप्यूटर की शिक्षा देने वाले कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट की डिमांड भी काफी बढ़ गई है, हालांकि अब स्कूलों में कंप्यूटर को एक अनिवार्य विषय के रुप में पढ़ाया जाने लगा है , लेकिन स्कूलों में छात्र सिर्फ कंप्यूटर की बेसिक जानकारी ही ले सकते हैं, कंप्यूटर से संबंधित अन्य जानकारी छात्र कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के माध्यम से ही प्राप्त कर सकते हैं। आइए जानते है, Computer Training Center : कैसे खोले Best कंप्यूटर ट्रेनिंग सेण्टर? विस्तार से…

Computer Training Center

कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट क्या है?

जहां बच्चों को कंप्यूटर ऑपरेट करने के बारे में सिखाया जाता है और सीखने के बाद सर्टिफिकेट देकर प्रमाणित भी किया जाता है कंप्यूटर इंस्टीट्यूट कहलाता है या साधारणतः ये भी कहा जा सकता है कि, यह एक कंप्यूटर का स्कूल। यदि आपको कंप्यूटर का थोड़ा ज्ञान है, तो आप कंप्यूटर इंस्टीट्यूट खोल सकते हैं जिससे आपकी अच्छी कमाई हो जाएगी।

लेकिन इसके लिए अच्छे खासे पैसे की आवश्यकता पड़ती है जिससे आप सिस्टम और बाकी जरूरतों को पूर्ण करेंगे,और अंत में बात आती है सरकारी परमिशन की जो सबसे जरूरी और सबसे कठिन काम है इसके लिए पैसे भी खर्च करने पड़ते हैं और भागदौड भी करनी पड़ सकती हैं।

Computer Training Center कहा हो?

सबसे पहले आपको कंप्यूटर शिक्षा केंद्र खोलने के लिए स्थान का चयन करना होगा। Computer Training Center के लिए जगह का निर्धारण करने से पहले यह भी ध्यान रखना चाहिए कि यह आपके शहर से दूर नहीं हो।

क्योंकि ऐसी जगह पर ट्रांसपोर्ट के साधनों की पहुंच नहीं होने से आने-जाने में बहुत परेशानी होती है, साथ ही ज्यादा दूरी पर समय भी बर्बाद होता है, जिससे छात्र ऐसी जगह से कोर्सेस करना पसंद नहीं करते। विशेषज्ञों के सुझाव के अनुसार, आपका कंप्यूटर शिक्षा केंद्र या इंस्टिट्यूट का स्थान बस स्टैंड, स्कूल, कॉलेज, आईटीआई, कोचिंग सेंटर के नजदीक होना चाहिए।

प्रशिक्षण भवन की आवश्यकताएं-

Computer Training Center हेतु स्थान का चयन करने के बाद, अगर आपके पास खुद का भवन नहीं है, तो आपको किराए पर कमरा लेना होगा। नया कंप्यूटर प्रशिक्षण केंद्र खोलने, शुरू करने या पंजीकरण करने के लिए आपके पास कम से कम 1 कमरा होना चाहिए। जिसका क्षेत्रफल कम से कम 100 Sq. फ़ीट होना चाहिए।

Computer Training Center हेतु फर्नीचर की आवश्यकता

  • आपको अपने कंप्यूटर इंस्टिट्यूट के लिए कम लागत में फर्नीचर खरीदना पड़ेगा।
  • कंप्यूटर सेंटर की थ्योरी क्लास के लिए कम से कम 5 कुर्सियाँ खरीदे।
  • कंप्यूटर सेंटर की प्रैक्टिकल क्लास के लिए कम से कम 5 कुर्सियाँ खरीदे।
  • कंप्यूटर इंस्टिट्यूट की प्रैक्टिकल क्लास के लिए 3 कंप्यूटर टेबल खरीदे।
  • सेंटर डायरेक्टर केबिन के लिए 3 कुर्सियाँ और 1 टेबल खरीदे।
  • सेंटर में कम लागत और उच्च क्वालिटी के फर्नीचर की व्यवस्था करें।
  • कंप्यूटर टेबल आप अपने लोकल फर्नीचर शॉप से खरीद सकते हो या फिर कारपेंटर से बनवा सकते हो।

 Hardware And Software For Computer Training Center

किसी भी तरह की कानूनी परेशानियों से बचने और एक सफल व्यापारी के तौर पर अपने प्रतिष्ठा और सम्मान को बरकरार रखने के लिए, आपको अपने कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट में सिर्फ वास्तविक और लाइसेंस प्राप्त सॉफ्टवेयर का ही इस्तेमाल करना चाहिए। वहीं आापको पायरेटेड प्रोग्राम्स ( pirated programmes ) के इस्तेमाल से बचना चाहिए , भले ही वो खरीदने में सस्ते और आसान क्यों ना हो।

  • आपके कंप्यूटर सेंटर में कम से कम 3 कंप्यूटर होने चाहिए।
  • आपके सेंटर में 1 प्रिंटर होना चाहिए।
  • आपके सेंटर में 1 कनेक्शन इंटरनेट होना चाहिए, जैसे की ब्रॉडबैंड या मोबाइल 4 जी।
  • यदि आप बिजली बचाना चाहते हैं तो हम आपको कंप्यूटर एलसीडी या एलईडी खरीदने का सुझाव देंगे क्योंकि यह आम मॉनिटर की तुलना में कम बिजली की खपत करता है।
  • कंप्यूटर सिस्टम और प्रिंटर हमेशा लोकल कंप्यूटर शॉप से खरीदें, क्यूंकि कंप्यूटर को समय- समय पर सर्विस की जरुरत होती है जो की लोकल कंप्यूटर शॉप ही उपलब्ध करवा पाएगी।
  • कोर्सेज की सिलेबस के अनुसार, आपको कंप्यूटर सॉफ्टवेयर जैसे- एमएस ऑफिस, टाइपिंग ट्यूटर, टैली, जावा, ओरेकल, विजुलबेसिक, ऑटोकैड, कैटिया, कोरेलड्रॉ, पेज मेकर, फ्लैश आदि सॉफ्टवेयर्स की व्यवस्था करनी होगी। सॉफ्टवेयर के लिए आप कंप्यूटर शॉप से संपर्क करें, जहाँ से आपने कंप्यूटर सिस्टम ख़रीदे है या खरीदने वाले है।

कंप्यूटर खरीदने के अलावा आपके पास आपकी कोचिंग के तय किए गए कोर्सेस और सिलेबस के मुताबिक जरूरी सॉफ्टवेयर भी होना चाहिए । आपके कम्प्यूटर सेंटर में MS Office, Tally, Java, Catia, Typing Tutors, Oracle, Visual Basic, Flash, Auto Card, Page Maker, Corel Draw जैसे कई ऐसे सॉफ्टवेयर होने चाहिए जो कि छात्र आपके इंस्टिट्यूट में सीखने के लिए आएंगे।

Computer Training Center हेतु सक्षम और योग्य टीचर्स की करें नियुक्ति

कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट की शुरुआत करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण यह है कि, आप एक योग्य और सक्षम कंप्यूटर टीचर्स की नियुक्ति करें। क्योंकि अगर आपके इंस्टिट्यूट में योग्य टीचर होंगे, तो वे बच्चों को अच्छी तरह से कंप्यूटर से संबंधित गुणवत्तापूर्ण जानकारी उपलब्ध करवा पाएंगे। तथा विद्यार्थियों को बारीकी से समझा पाएंगे। इसके साथ ही हर तरह के स्टूडेंट्स को अच्छी तरह हैंडल कर सकेंगे।

कंप्यूटर कोचिंग इंस्टिट्यूट में टीचर्स की नियुक्ति आपके कंप्यूटर इंस्टिट्यूट में उपलब्ध सिलेबस और कोर्सेस के आधार पर भी की जाती है। वहीं आप किसी कंप्यूटर टीचर की पढ़ाने की वास्तविक क्षमता और योग्यता का अंदाजा डेमो क्लास लेकर लगा सकते हैं। इसके साथ ही टीचर किसी भी कंप्यूटर इंस्टिट्यूट का मुख्य आधार होता है। इसलिए टीचर्स की नियुक्ति काफी समझदारी से करें। वहीं अगर आपको कंप्यूटर की अच्छी जानकारी है, तो यह आपके ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के लिए और भी अधिक अच्छा होगा।

मान्यता प्राप्त कंप्यूटर कोर्सेस का करें चुनाव।

अपने कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के लिए कोर्सेस का चयन आपके संस्थान की इंफ्रास्ट्रक्चर, सिस्टम, मशीन और टीचर्स पर काफी निर्भर करता है। वहीं आपको अपने कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के लिए मान्यता प्राप्त कंप्यूटर एजुकेशन ट्रेनिंग कोर्सेस का ही चयन करना चाहिए। आईटी कंप्यूटर कोर्सेस और बेसिक कंप्यूटर एजुकेशन कोर्सेस जैसे कि – (Internet, paint, MS Office, DFA, DCA, ADCA आदि।

जबकि कंप्यूटर टाइपिंग कोर्सेस जैसे कि हिन्दी टाइपिंग, इंग्लिश टाइपिंग, आदि और कंप्यूटर प्रोगामिंग कोर्सेस जैसे कि C++, Java, oracle, आदि इसके अलावा DTP कोर्सेस, वेबसाइट डिजाइनिंग लैंग्वेज कोर्सेस, कम्प्यूटर साक्षरता अभियान ट्रेनिंग कोर्सेस, कंप्यूटर हार्डवेयर और नेटर्वकिंग कोर्सेस समेत नॉन आईटी कोर्सेस का भी आप चयन कर सकते हैं।

कंप्यूटर इंस्टीट्यूट रजिस्ट्रेशन की जरूरी बातें-

  • कंप्यूटर इंस्टीट्यूट खोलने के लिए सबसे पहले तो आपके पास एक अच्छा हॉल होना चाहिए जहां सिस्टम लगाया जा सके।
  • कंप्यूटर इंस्टीट्यूट के लिए 3-10 कंप्यूटर तो होने ही चाहिए पूरे सिस्टम सहित।
  • कंप्यूटर इंस्टीट्यूट खोलने के लिए आपके पास स्वंम कंप्यूटर रिलेटेड जानकारी और सर्टिफिकेट होंना चाहिए।
  • कंप्यूटर इंस्टीट्यूट के लिए हॉल अच्छे एरिया में होना चाहिए और शोर – शराबा बाले एरिया से काफी दूर।
  • इंस्टीट्यूट किसी समूह अथबा सोसायटी से जुड़ा होना चाहिए।

कंप्यूटर इंस्टीट्यूट रजिस्ट्रेशन के प्रकार-

आपको किस तरह से कंप्यूटर इंस्टीट्यूट ये आप पर निर्भर करता है क्योंकि कंप्यूटर इंस्टीट्यूट के रजिस्ट्रेशन दो तरह से होते हैं जैसे-

1- फ्रैंचाइजी के द्वारा-

ये तरीका भी काफी प्रचलित है जिसके द्वारा आपको किसी बड़े इंस्टीट्यूट अथबा किसी कंपनी कि फ्रेंचाइजी खरीदनी होगी जिसके बाद उनके कुछ प्रोसेस कंप्लीट होने के बाद आप उनकी कंपनी की शाखा के रूप में अपना इंस्टीट्यूट चला पाएंगे और यदि ऐसे में आपको किसी भी तरह की लीगल प्रॉब्लम आ रही है तो मैंन ब्रांच अर्थात कंपनी ही उसकी जिम्मेदारी लेगा जिससे आपको ज्यादा कुछ करने की जरूरत नही होगी हां इस फ्रेंचाइजी की एक वेलिडेशन डेट होती है जिसके बाद आप को पुनः फ्रेंचाइजी खरीदनी होगी और फिर उसी तरह काम कर सकते हैं,ऐसे में सर्टिफिकेट और बाकी व्यवस्थाओं को कम्पनी स्वमं पूरा करेगी।

लेकिन इसके लिए वो कंपनी आपसे मनमानी फीस बसूल कर सकती है और हो सकता है कि सर्टिफिकेट और कागज देने में समय भी लगाए ,कोई भी कंपनी आपसे लगभग 10000 रुपए -100000 रुपए तक ले सकती है और जो आपको दुबारा भी खरीदनी होती है।

2- सोसाइटी संचालित और उधोग आधार रजिस्ट्रेशन द्वारा-

ये रजिस्ट्रेशन आपका पूर्णता वैलिड माना जाता है क्योंकि इस तरीके से आप बिना किसी कंपनी की शाखा बने सीधे एक इंस्टीट्यूट के रूप में सरकारी आंकड़ों में रजिस्टर हो जाते हैं,इसके लिए आपको सबसे पहले एक सोसाइटी या ट्रस्ट बनाना होगा,इसके बाद उस ट्रस्ट को एक कंपनी के रूप में उधोग आधार में रजिस्टर करना होगा और फिर ISO 9001-2008 प्रमाणित कराना होगा ,इसके बाद आपका इंस्टीट्यूट स्तर सरकारी रजिस्टर हो जाएगा।

1- सोसायटी-

जिसमें आप 7 ,15 या फिर अधिक व्यक्तियों को जोड़ सकते हैं,सोसायटी बनाने के लिए आप किसी लॉयर से भी सम्पर्क कर सकते हैं या सीधे किसी सरकारी चिट-फंड रजिस्ट्रार कार्यालय में जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं,बैसे सोसायटी पैसों और कोचिंग इंस्टीट्यूटस के लिए अधिकतर बनाई जाती है।

  • सोसायटी आप उसी नाम से बनाए जिस नाम से कंप्यूटर इंस्टीट्यूट खोलना चाहते हैं।
  • आप को सारे मेम्बर्स को साथ ले जाना होगा।
  • सारे मेम्बर आधार कार्ड और एक और पते का प्रमाण हो।
  • आप बकील से हलफनामा और बाकी कागज तैयार करा लें।
  • सोसायटी रजिस्ट्रेशन की फीस 2000 रुपये पड़ती है और रिनोवल कि 1000 रुपए।
  • सोसायटी रजिस्ट्रेशन सिर्फ 5 वर्षो के लिए ही वैलिड है इसके बाद आपको रिनोवल कराना होगा।

2- उधोग आधार रजिस्ट्रेशन-

आवश्यक डाकुमेंट-आपकी सोसाइटी के पता ,नाम और उद्देश्य के डॉक्यूमेंट,आपके आधार ,पैन कार्ड बैंक डिटेल्स भी देने होंगे।

उद्योग आधार एक उद्योग के रजिस्ट्रेशन की साइट है जहाँ किसी भी व्यपार को रजिस्टर किया जा सकता है और उस व्यापार के लिए प्रमाणन सर्टिफिकेट भी  आसानी से मिल जाएगा बिना किसी चार्ज के।

  • आप चाहे तो ये फार्म आप किसी भी जन सेवा केंद्र से भरा सकते हैं ।
  • स्वमं फार्म भरने के लिए आपको सबसे पहले https://msme.gov.in/ वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक पेज खुल जाएगा जो उधम रजिस्ट्रेशन का सरकारी पेज होगा।
  • यहां पर आपको नीचे कुछ ऑप्शन बॉक्स की तरह दिए गए होंगे ।
  • वही एक ऑप्शन होगा udhyam registration ।
  • जिस पर क्लिक करके आपके सामने एक फार्म खुलेगा।
  • नये रजिस्ट्रेशन के लिए ऊपर वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • उसके बाद नए पेज में आपको अपना आधार कार्ड नंबर और आधार कार्ड पर लिखा नाम भरना होगा ।
  • उसके बाद टर्म को टिक करके OTP जनरेट पर क्लिक करें।
  • याद रहे कि आपका आधार कार्ड मोबाइल नंबर से रजिस्ट्रर होना चाहिए।
  • OTP डालने के बाद नया पेज खुलेगा जहां पर आपको  ऑर्गनाइजर का प्रकार चुनना है जहां आप सोसायटी चुन सकते हैं,फिर अपना पैन कार्ड देना है।
  • आपको यहां पर एक एक करके सारे कालम भरने हैं
  • यहां आपको अपनी सोसायटी के सारे मेंबर की जानकारी भी भरनी होगी।
  • आपको यहां पर बैंक सम्बन्धी जानकारी भी देनी होगी।
  • आपको अपनी सोसायटी का उद्देश्य भी बताना होगा।
  • यदि आपका सालाना टार्न ओवर 20 लाख से अधिक है तो आपको GST नंबर भी लेना पड़ेगा और रिटर्न्स भी समय-समय पर भरने होंगे।
  • आपको इस जानकारी के आधार पर एल प्रमाणपत्र जारी कर दिया जाएगा।

3- Computer Training Center For ISO सर्टिफिकेट-

अब बात आती है ISO सर्टिफिकेट की जिसके लिए आपको कुछ फीस भी देनी होगी, चूंकि फीस में बदलाव होते रहते हैं और ISO सर्टिफिकेट प्रमाणन के लिए समय भी अधिक लगता है चूंकि ये एक लंबा प्रोसेस है इसके लिए आप जन सेवा केंद्र से ऑनलाइन अप्लाई भी कर सकते हैं।

ISO सर्टिफिकेशन से लाभ-

  • कंप्यूटर इंस्टीट्यूट के लिए आपको NON IAF ISO प्रमाणन लेना होगा।
  • ISO के द्वारा आप बच्चो को बता सकते है कि आपका इंस्टीट्यूट ISO प्रमाणित है जिससे अच्छ इम्प्रेशन पड़ता है।
  • आपको आपके इंस्टीट्यूट के लिए एक सरकारी सर्टिफिकेट मिल जाता है।
  • ये आप किसी दलाल या जानकार के माध्यम से ऑफलाइन भी करा सकते हैं।

इन तीनो सर्टिफिकेट को लेने के बाद आपका इंस्टीट्यूट एक सरकारी लेबल पर प्रमाणित इंस्टिट्यूट हो जाता है, जहां आपको किसी भी तरह के कोई प्रॉब्लम का डर नही रहता और आप अपने खुद के इंस्टीट्यूट के नाम पर सर्टिफिकेट जारी कर सकते हैं।

कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट की मार्केटिंग और एडवरटाइजमेंट पर दें विशेष ध्यान

अगर आप नए कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट की शुरुआत करते हैं, तो आपको इसके लिए मजबूत मार्केटिंग करने की जरूरत है । आप अपने कंप्यूटर इंस्टिट्यूट का विज्ञापन न्यूज पेपर, न्यूज चैनल, लोकल कैबल टीवी , रेडियो समेत बड़़ी ऑनलाइन वेबसाइट पर दे सकते हैं । इसके साथ ही आप सोशल मीडिया साइट्स के माध्यम से भी अपने कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट की मार्केटिंग कर सकते हैं ।

Computer Training Institute खोलने में इन्वेस्टमेंट कितनी लगती है

अगर बात करें इन्वेस्टमेंट की तो कंप्यूटर सेंटर खोलने में ज्यादा इन्वेस्टमेंट नहीं लगता है। आपका इनवेस्टमेंट बस तभी लगता है जब आप कोई फ्रेंचाइजी लेते हैं और उनको जो आपने पेमेंट करनी होती है। तो इसके अलावा आपके कंप्यूटर लैब को मेंटेन करने में, कंप्यूटर रखने में इन्हीं सब चीजों में इन्वेस्टमेंट लगता है। अगर आपको काम पैसे में कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट खोलना है तो आप गोवेरमेंट की फ्रेंचाइजी लेकर सिर्फ 50 से 60 हज़ार रुपये में अपना कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट खोल सकते है

Computer Training Institute से प्रॉफिट कितना हो सकता है

Computer Training Institute से रिटर्न की बात करेंगे तो अगर आपका कंप्यूटर सेंटर चल पड़ा तो आपको बहुत सारे प्रॉफिट मिलेंगे। क्योंकि कंप्यूटर सीखने का तो कोई सीजन होता नहीं है जब भी लोगों को टाइम मिलता है तभी लोग सीखने चले जाते हैं। चाहे स्टूडेंट हो या किसी गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब करने वाले प्राइवेट सेक्टर में जॉब करने वाले। सब जगह कंप्यूटर की नॉलेज अनिवार्य कर दी गई है इसलिए इस बिजनेस में आपको बहुत प्रॉफिट मिल सकता है।

निष्कर्ष-

अगर आप ऊपर लिखी गई बातों को ध्यान में रखकर कंप्यूटर इंस्टिट्यूट की शुरुआत करेंगे तो निश्चय ही आपको अपनी संस्थान को इस कॉम्प्टीशन के दौरान खुद को स्थापित करने में आसानी होगी ।

2 thoughts on “Computer Training Center : कैसे खोले Best कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर?”

  1. सर मैंने आपका ब्लॉग पढ़ा इसमें अपने बिजनेस शुरू करने के लिए बहुत से आसान तरीके बताएं हैं। जिससे बहुत लोग बिजनेस शुरू कर रहे हैं इस ब्लॉग के लिए धन्यवाद।

    Reply

Leave a Comment

%d bloggers like this: