Coronil दवा पर आचार्य बालकृष्ण का ट्वीट- कम्यूनिकेशन गैप था

Coronil दवा पर आचार्य बालकृष्ण जी का ट्वीट-

योग गुरु बाबा रामदेवजी की Patanjali की coronil लांच की जिसके बाद से इसे लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है| पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर आचार्य बालकृष्ण ने ट्वीट कर जानकारी देते हुए कहा, कि Patanjali Coronil Controversy सरकार के साथ केवल Communication Gap है और कुछ नहीं|

उन्होंने (आचार्य बालकृष्ण जी ने) लिखा कि ‘यह सरकार आयुर्वेद को प्रोत्साहन व गौरव देने वाली है| जो कम्युनिकेशन गैप था, वह दूर हो गया है| क्लीनिकल ट्रायल के जितने भी स्टैंडर्ड पैरामीटर्स हैं, उन सभी को 100 फीसदी पूरा किया है| इसकी सारी जानकारी हमने आयुष मंत्रालय को दे दी है|’ गौरतलब है कि एक तरफ उत्तराखंड के आयुष विभाग का कहना है कि उन्होनें केवल इम्युनिटी बूस्टर बनाने की अनुमति दी थी न की कोई दवाई| वही दूसरी तरफ पतंजली की तरफ से लगातार ये दावा किया जा रहा है की इस दवाई को बनाने के लिए सभी तरह के वैज्ञानिक parameter का ख्याल रखा गया है|

यह भी पढ़ेअब coronil (कोरोनिल) tablet से covid-19 का इलाज की सम्भावना|जानिए दावे की सत्यता

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के लिए  हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है | हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें |


Acharya Balakrishna’s tweet on Coronil medicine-

Yoga Guru Baba Ramdev’s Patanjali’s coronil was launch since which controversy has been growing. Giving information by tweeting Acharya Balakrishna, Managing Director of Patanjali Ayurved Limited, said that Patanjali Coronil Controversy is only Communication Gap with the government and nothing else.

Coronil medicine

He wrote that ‘this government is giving encouragement and glory to Ayurveda. The communication gap that has gone away. All the standard parameters of clinical trials are 100% fulfilled. We have given all this information to the Ministry of AYUSH.

It is important to note that on one side the AYUSH department of Uttarakhand says that they were only allowed to make immunity boosters and not any medicines, on the other hand, Patanjali is constantly claiming that all kinds of medicines are being made to take this medicine. The scientific parameter is taken care of.

2 thoughts on “Coronil दवा पर आचार्य बालकृष्ण का ट्वीट- कम्यूनिकेशन गैप था”

Leave a Comment

%d bloggers like this: