Gandhi Jayanti 2020: महात्मा गांधी के प्रेरक विचार

Gandhi Jayanti 2020: महात्मा गांधी- गांधी जयंती देशभर में हर साल दो अक्टूबर को  महात्मा गांधी जी के जन्मदिन के अवसर पर मनाई जाती है | इस दिन राष्ट्रीय अवकाश होता है | उनका पूरा नाम मोहनदास कर्मचंद गांधी तथा 2 अक्टूबर 1869 को पोरबंदर, गुजरात में पैदा हुए थे | भारत के स्वतंत्रता संग्राम में गांधी जी अमूल्य योगदान और अहिंसा के तरीके के कारण उन्हें याद किया जाता है | 1930 में उन्होंने दांडी मार्च किया था | इसके बाद 1942 में उन्होंने भारत छोड़ो आंदोलन की शुरुआत की | आइए पढ़ते हैं उनके अमूल्य विचार जो आपका मार्ग भी प्रशस्त करेंगे |

Gandhi Jayanti महात्मा गांधी से सीखे – 5 Success Mantra 

पाप से घृणा करो, पापी से प्रेम करो |

स्वयं को जानने का सर्वश्रेष्ठ तरीका है,स्वयं को औरों की सेवा में लगा देना |

आप तब तक यह नहीं समझ पाते कि आपके लिए कौन महत्वपूर्ण है, जब तक आप उन्हें वास्तव में खो नहीं देते |

प्रेम की शक्ति दंड की शक्ति से हजार गुनी प्रभावशाली और स्थायी होती है |

जो भी चाहे अपनी अंतरात्मा की आवाज सुन सकता है | वह सबके भीतर है |

व्यक्ति अपने विचारों से निर्मित एक प्राणी है, वह जो सोचता है वही बन जाता है |

काम की अधिकता नहीं,बल्कि अनियमितता आदमी को मार डालती है |

गुलाब को उपदेश देने की आवश्यकता नहीं होती है | वह तो केवल अपनी खुशी बिखेरता है | उसकी खुशबू ही उसका संदेश है |

हम जिसकी पूजा करते हैं, उसी के समान हो जाते हैं |

श्रद्धा का अर्थ है आत्मविश्वास और आत्मविश्वास का अर्थ है ईश्वर में विश्वास |

सफलता (success) की राह

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के लिए  हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है | हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें |

श्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जन्म-जयंती (2 अक्टूबर)


Gandhi Jayanti is celebrated all over the country on October 2 every year on the occasion of Mahatma Gandhi’s birthday. This day is a national holiday. His full name was Mohandas Karamchand Gandhi and was born on 2 October 1869 in Porbandar, Gujarat. Gandhi is remembered for his invaluable contribution to the freedom struggle of India and his manner of non-violence. In 1930, he marched in Dandi. After this, he started the Quit India Movement in 1942. Let us read their priceless thoughts which will also pave your way.

Success Mantra: Learn these 5 mantras of success from Bapu’s life

Hate sin, love sinner.

The best way to know yourself is to put yourself in service to others.

You don’t understand who is important to you until you actually lose them.

The power of love is a thousand times more powerful and lasting than the power of punishment.

Anyone who wants can hear his conscience. He is within everyone.

A person is a creature created by his thoughts, he becomes what he thinks.

Irregularity kills the man, not the excess of work.

The rose does not need to be preached. He only spreads his happiness. His scent is his message.

We become like what we worship.

Shraddha means confidence and confidence means faith in God

2 thoughts on “Gandhi Jayanti 2020: महात्मा गांधी के प्रेरक विचार”

Leave a Comment

%d bloggers like this: