world day of poetry : जानिए विश्व कविता दिवस का महत्व, विस्तार पूर्वक।

world day of poetry– हर साल विश्व स्तर पर 21 मार्च को विश्व कविता दिवस (world day of poetry) मनाया जाता है। इसकी शुरुआत वर्ष 1999 में यूनेस्को द्वारा हुई थी। आइये इसके बारें में विस्तार से जानते है..

what is poetry कविता क्या है ?

काव्य, कविता या पद्य, साहित्य की वह विधा है जिसमें किसी कहानी या मनोभाव को कलात्मक रूप से किसी भाषा के द्वारा अभिव्यक्त किया जाता है।

world day of poetry- दुनिया की खूबसूरती को बयां करने के लिए कविता से बेहतर कोई माध्यम नहीं है, वहीं दुनिया के दुखों का भार भी इन्हीं कविताओं ने सदियों से अपने कंधों पर ढो रखा है। स्त्रियों के सारे सपने इन कविताओं में बंधे हुए हैं, पुरुषों के डरों को भी कविताओं ने स्वीकारा है। विश्व कितने ही लोग हुए हैं जिनके लिए कविता ने प्राणवायु का कार्य किया है। कविताओं से हम हैं और हम ही से कविताएं हैं। कवियों और श्रोताओं, पाठकों के लिए भूत भी कविता थी, वर्तमान भी वही है और भविष्य भी वही है। विश्व कविता दिवस में अधिक दिन दूर नहीं है। अगली स्लाइड्स से जानिए, world day of poetry (विश्व कविता दिवस) का इतिहास, महत्व और अन्य जानकारी।

विश्व कविता दिवस का इतिहास

world day of poetry
world day of poetry

हर वर्ष 21 मार्च को विश्व कविता दिवस मनाया जाता है। प्रथम बार संयुक्त राष्ट्र ने 21 मार्च को विश्व कविता दिवस के रूप में मनाने की घोषणा वर्ष 1999 में की थी। संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन ने प्रत्येक वर्ष 21 मार्च को कवियों और उनकी कविता की खुद से लेकर प्रकृति और ईश्वर आदि तक के भावों को सम्मान देने के लिए यह दिवस मनाने का निर्णय लिया। विश्व कविता दिवस के अवसर पर भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय और साहित्य अकादमी के द्वारा हर साल विश्व कविता उत्सव बड़े उत्साह से मनाया जाता है।

ऐसी सोच बदल देगी जीवन
कैसे लाए बिज़्नेस में एकाग्रता
लाइफ़ की क्वालिटी क्या है
बड़ी सोच से कैसे बदले जीवन
सफलता की राह कैसे चले अमीरों के रास्ते कैसे होते है
कैसे सोचे leader की तरह
किस तरह बड़ी सोच पहुँचाती है शिखर पर

world day of poetry का उद्देश्य

विश्व कविता दिवस मनाने का मुख्य उद्धेश्य कविताओं का प्रचार- प्रसार करना है। world day of poetry के माध्यम से नए लेखकों एवं प्रकाशकों को प्रोत्साहित किया जाता है। कविताओं के लेखन और पठन दोनों का ही संतुलन बना रहे इसलिए भी इस दिवस को मनाने का निर्णय लिया गया। कविताओं का भूत बहुत स्वर्णिम रहा है और वर्तमान और भविष्य भी इसी ओर जाए इसलिए भी विश्वभर में विभिन्न देशों में इस दिन को गर्व के साथ मनाया जाता है।

विश्व कविता दिवस को ऐसे बनाएं यादगार

यदि आप चाहते हैं कि इस वर्ष विश्व कविता दिवस को कुछ अलग तरह से मनाएं तो अपने कविता प्रेमी दोस्तों को किसी अच्छे कवि की पुस्तक भेंट करें। कोई पांच अच्छी कविताओं को जरूर पढ़ें। जो कविताएं आपको पसंद आती हो, इस दिन उन्हें लोगों से साझा करें। अपने परिवार या मित्र मंडली को बैठाकर कोई एक पुरानी कविता अर्थ सहित सुनाएं। खुद के लिए भी कोई एक अच्छी कविताओं की किताब खरीदना न भूलें।

जानिए कैसे मनाया जाता है, world day of poetry?

विश्व कविता दिवस के लिए तरह-तरह के आयोजन होते हैं। फिलहाल कोरोना को ध्यान में रखते हुए ऑनलाइन आयोजनों की तरफ लोगों का रुझान अधिक है। इसके लिए समारोह आयोजित किये जाते हैं जिसमें कवि कविता पाठ करते हैं, पुराने कवियों को याद किया जाता है। पाठक अपनी प्रतिक्रिया साझा करते हैं। प्रकाशक कवि और उनकी कविता, किताब आदि से जुड़े अनुभवों को बताते हैं। कई जगहोंं पर तो कविता की पुस्तकों का विमोचन भी होता है।

पर्यावरण पर सुंदर कविता..

“धरती माँ करे पुकार”

धरती माँ करे पुकार,
अब और न करो अत्याचार।
मत करो गोद सूनी मेरी,
लौटा दो मेरा प्यार।

आहत हो रहे मेरे सीने में,
दे दो फिर से जान।
मेरे ही सीने से पलने वाले,
क्यों हो सच से अनजान।

माँ हूँ तेरी कोई गैर नही,
जीवन हूँ तेरा कुछ और नही।
क्यों हरियाली को मेरे आँचल से,
मुझसे छीन लिया।
गला घोंटकर ममता का,
मुझसे नाता तोड़ लिया।

जर्जर हो रही मेरी काया में,
फिर से भर दो जान,
देकर मुझको मेरा अस्तित्व,
लौटा दो मेरी पहचान।

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के लिए  हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है | हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें |

Leave a Comment

%d bloggers like this: