network topology in computer: टोपोलॉजी क्या हैं? और network topology के प्रकार जानिए |

network topology in computer :- Topology नेटवर्क का लेआउट होता है। अर्थात् नेटवर्क की आकृति और विभिन्न nodes किस तरह से जुड़ते हैं और कम्युनिकेशन स्थापित करते हैं, यह topology ही निर्धारित करती हैं। अर्थात् किसी नेटवर्क में Computer की Geometric Arrangement को Topology कहते हैं। आइए जानते है network topology in computer अर्थात टोपोलॉजी क्या हैं? और network topology के प्रकार के बारे मे विस्तार पूर्वक…

नेटवर्क टोपोलॉजी क्या है? – What is Network Topology in Hindi?

network topology in computer:- नेटवर्क टोपोलोजी  कम्यूनिकेशन नेटवर्क के तत्वों की व्यवस्था है जैसे; links, Nodes आदि। Network Topology का इस्तेमाल विभिन्न प्रकार के telecommunication networks को व्यवस्थित करने में किया जात है। जिसमें command और control radio networks, industrial field buses और कम्प्यूटर नेटवर्क शामिल होते हैं। Network Topology उस नेटवर्क का लॉजिकल और फीजिकल topological structure निर्धारित करती है।

secret of success सफलता का रहस्य क्या है ? सफलता के मूल मंत्र जानिए। success mantra
success definition सफलता की परिभाषा क्या है ? diligence यानि परिश्रम ही सफलता की कुंजी है | जानिए कैसे ?

Network Topology in computer

network topology in computer: टोपोलॉजी नेटवर्क की आकृति या लेआउट को कहा जाता है। नेटवर्क के विभिन्न नोड किस प्रकार एक दुसरे से जुड़े होते है तथा कैसे एक दुसरे के साथ कम्युनिकेशन स्थापित करते है, उस नेटवर्क को टोपोलॉजी ही निर्धारित करता है टोपोलॉजी फिजिकल या लौजिकल होता है। Computers को आपस में जोडने एवं उसमें डाटा Flow की विधि टोपोलाॅजी कहलाती है। टोपोलॉजी किसी नेटवर्क में कम्प्यूटर के ज्यामिति व्यवस्था (Geometric arrangement) को कहते है।

“Topology is a Layout of Networks”

टोपोलॉजी के प्रकार ( network topology in computer: Types of topology)

network topology in computer: नेटवर्क टोपोलॉजी सामान्यत: निम्नलिखित प्रकार की होती है:-

  • रिंग टोपोलॉजी (Ring Topology)
  • बस टोपोलॉजी (Bus Topology)
  • स्टार टोपोलॉजी (Star Topology)
  • मेश टोपोलॉजी (Mesh Topology)
  • ट्री टोपोलॉजी (Tree Topology)

रिंग टोपोलॉजी (network topology in computer: Ring Topology)

इस कम्प्यूटर में कोई होस्ट, मुख्य या कंट्रोलिंग कम्प्यूटर नही होता । इसमें सभी कम्प्यूटर एक गोलाकार आकृति में लगे होते है प्रत्येक कम्प्यूटर अपने अधीनस्थ (Subordinate) कम्प्यूटर से जुड़े होते है, किन्तु इसमें कोई भी कम्प्यूटर स्वामी नही होता है। इसे सर्कुलर (Circular) भी कहा जाता है।

Ring

रिंग नेटवर्क (Ring Network) में साधारण गति से डाटा का आदान-प्रदान होता है तथा एक कम्प्यूटर से किसी दुसरे कम्प्यूटर को डाटा (Data) प्राप्त करने पर उसके मध्य के अन्य कंप्यूटरो को यह निर्धारित करना होता है कि उक्त डाटा उनके लिए है या नही। यदि यह डाटा उसके लिए नही है तो उस डाटा को अन्य कम्प्यूटर में आगे (Pass) कर दिया जाता है।

लाभ (Advantages) –

  • यह नेटवर्क अधिक कुशलता से कार्य करता है, क्योकि इसमें कोई होस्ट (Host) यह कंट्रोलिंग कम्प्यूटर (Controlling Computer) नही होता।
  • यह स्टार से अधिक विश्वसनीय है, क्योकि यह किसी एक कम्प्यूटर पर निर्भर नही होता है।
  • इस नेटवर्क की यदि एक लाइन या कम्प्यूटर कार्य करना बंद कर दे तो दुसरी दिशा की लाइन के द्वारा काम किया जा सकता है।

हानि (Disadvantages) 

  • इसकी गति नेटवर्क में लगे कम्प्यूटरो पर निर्भर करती है। यदि कम्प्यूटर कम है तो गति अधिक होती है और यदि कंप्यूटरो की संख्या अधिक है तो गति कम होती है।
  • यह स्टार नेटवर्क की तुलना में कम प्रचलित है, क्योकि इस नेटवर्क पर कार्य करने के लिए अत्यंत जटिल साफ्टवेयर की आवश्यकता होती है।

बस टोपोलॉजी (network topology in computer: Bus Topology)

बस टोपोलॉजी (Bus Topology) में एक ही तार (Cable) का प्रयोग होता है और सभी कम्प्यूटरो को एक ही तार से एक ही क्रम में जोड़ा जाता है। तार के प्रारम्भ तथा अंत में एक विशेष प्रकार का संयंत्र (Device) लगा होता है जिसे टर्मिनेटर (Terminator) कहते है। इसका कार्य संकेतो (Signals) को नियंत्रण करना होता है।

network topology in computer

 

लाभ (Advantages) –

  • बस टोपोलॉजी को स्थापित (Install) करना आसान होता है
  • इसमें स्टार व ट्री टोपोलॉजी की तुलना में कम केबिल उपयोगी होता है।

हानि (Disadvantages) 

  • किसी एक कम्प्यूटर की खराबी से सारा डाटा संचार रुक जाता है।
  • बाद में किसी कम्प्यूटर को जोड़ना अपेक्षाकृत कठिन है।

स्टार टोपोलॉजी (Star Topology)

इस नेटवर्क में एक होस्ट कम्प्यूटर होता है जिसे सीधे विभिन्न लोकल कंप्यूटरो से जोड़ दिया जाता है। लोकल कम्प्यूटर आपस में एक-दुसरे से नही जुड़े होते हैं इनको आपस में होस्ट कम्प्यूटर द्वारा जोड़ा जाता है। होस्ट कम्प्यूटर द्वारा ही पूरे नेटवर्क को कंट्रोल किया जाता है।

Star topo

लाभ (Advantages) –

  • इस नेटवर्क टोपोलॉजी में एक कम्प्यूटर से होस्ट (Host) कम्प्यूटर को जोड़ने में लाइन बिछाने की लागत कम आती है।
  • इसमें लोकल कम्प्यूटर की संख्या बढाये जाने पर एक कम्प्यूटर से दुसरे कम्प्यूटर पर सूचनाओ के आदान-प्रदान की गति प्रभावित नही होती है, इसके कार्य करने की गति कम हो जाती है क्योकि दो कम्प्यूटर के बीच केवल होस्ट (Host) कम्प्यूटर ही होता है।
  • यदि कोई लोकल कम्प्यूटर ख़राब होता है तो शेष नेटवर्क इससे प्रभावित नही होता है।

हानि (Disadvantages) 

  • यह पूरा तंत्र होस्ट कम्प्यूटर पर निर्भर होता है। यदि होस्ट कम्प्यूटर ख़राब हो जाय तो पूरा का पूरा नेटवर्क फेल हो जाता हैं।

मेश टोपोलॉजी (Mesh Topology)

मेश टोपोलॉजी को मेश नेटवर्क (Mesh Network) या मेश भी कहा जाता है। मेश एक नेटवर्क टोपोलॉजी है जिसमे संयंत्र (Devices) नेटवर्क नोड (Nodes) के मध्य कई अतिरिक्त अंत: सम्बन्ध (Interconnections) से जुड़े होते है। अर्थात मेश टोपोलॉजी में प्रत्येक नोड नेटवर्क के अन्य सभी नोड से जुड़े होते है।

network topology in computer

मेश टोपोलॉजी में सारे कंप्यूटर कही न कही एक दूसरे से जुड़े रहते हैं और एक दूसरे से जुड़े होने के कारण ये अपनी सूचनाओ का आदान प्रदान आसानी से कर सकते हैं। इसमें कोई होस्ट कंप्यूटर नहीं होता हैं।

ट्री टोपोलॉजी (network topology in computer: Tree Topology)

ट्री टोपोलॉजी में स्टार तथा बस दोनों टोपोलॉजी के लक्षण विधमान होते है। इसमें स्टार टोपोलॉजी की तरह एक होस्ट कंप्यूटर होता है और बस टोपोलॉजी की तरह सारे कंप्यूटर एक ही केबल से जुड़े रहते हैं। यह नेटवर्क एक पेड़ के समान दिखाई देता हैं।

network topology in computer

लाभ (Advantages) –

  • प्रत्येक खण्ड (Segment) के लिए प्वाइन्ट तार बिछाया जाता है।
  • कई हार्डवेयर तथा साफ्टवेयर विक्रेताओ के द्वारा सपोर्ट किया जाता है।

हानि (Disadvantages) 

  • प्रत्येक खण्ड (Segment) का कुल लम्बाई प्रयोग में लाये गए तार के द्वारा सीमित होती है।
  • यदि बैकबोन लाइन टूट जाती है तो पूरा खण्ड (Segment) रुक जाता है।
  • अन्य टोपोलॉजी की अपेक्षा इसमें तार बिछाना तथा इसे कन्फीगर (Configure) करना कठिन होता है।

mainframe in computer का उपयोग

what is important of forest in Hindi वनों का महत्व और उपयोग क्या है?

save water save life: जल ही जीवन है,जानिए कैसे?

 

Thyroid test कैसे चेक करें? जानिए अपनी टेस्‍ट रिपोर्ट, क्‍या होता है T1, T2, T3, T4 और TSH का मतलब cholesterol test price: कोलेस्ट्रॉल टेस्ट क्या है ? कोलेस्ट्रॉल टेस्ट कैसे किया जाता हैं ?

Network Topology in Computer : सरल शब्दों में सारांश

  • टोपोलॉजी नेटवर्क की आकृति या लेआउट को कहा जाता है। इसमें Computers को आपस में जोडने एवं उसमें डाटा Flow की विधि टोपोलाॅजी कहलाती है।
  • टोपोलॉजी पांच प्रकार की होती है।Ring, Bus, Star, Tree, Mesh Topology.
  • रिंग टोपोलॉजी में कोई होस्ट, मुख्य या कंट्रोलिंग कम्प्यूटर नही होता।इसमें सभी कम्प्यूटर एक गोलाकार आकृति में लगे होते है।
  • बस टोपोलॉजी (Bus Topology) में एक ही तार (Cable) का प्रयोग होता है और सभी कम्प्यूटरो को एक ही तार से एक ही क्रम में जोड़ा जाता है।
  • स्टार टोपोलॉजी में एक होस्ट कम्प्यूटर होता है जिसे सीधे विभिन्न लोकल कंप्यूटरो से जोड़ दिया जाता है। लोकल कम्प्यूटर आपस में एक-दुसरे से नही जुड़े होते हैं।
  • मेश टोपोलॉजी में सारे कंप्यूटर कही न कही एक दूसरे से जुड़े रहते हैं और एक दूसरे से जुड़े होने के कारण ये अपनी सूचनाओ का आदान प्रदान आसानी से कर सकते हैं।
  • ट्री टोपोलॉजी में स्टार तथा बस दोनों टोपोलॉजी के लक्षण विधमान होते है।

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के लिए  हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है। हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

2 thoughts on “network topology in computer: टोपोलॉजी क्या हैं? और network topology के प्रकार जानिए |”

Leave a Comment

%d bloggers like this: