अब coronil (कोरोनिल) tablet से covid-19 का इलाज की सम्भावना|जानिए दावे की सत्यता

coronil का लॉन्च covid-19 महामारी के इलाज हेतु

coronil (कोरोनिल) Medicine: कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप से पूरी दुनिया प्रभावित हुई है| आज विश्व में covid-19 महामारी के लगभग 9209930 लोग संक्रमित है |और दिनों -दिन संक्रमित लोगो की संख्या बढती ही जा रही है | भारत में भी इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है | केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में कोरोना पॉजिटिव के कुल मामले 4 लाख 40 हजार से भी अधिक हैं | हालांकि, इसमें एक्टिव केसेज से ज्यादा संख्या रिकवर हो चुके मरीजों की है |

यह भी पढ़े – health is wealth स्वास्थ्य ही धन है|जानिए कैसे ?

पूरी दुनिया के वैज्ञानिक इस घातक वायरस की दवा बनाने में अब तक सफल नहीं हो पाए हैं| इस बीच, बाबा रामदेव ने आज कोरोना वायरस के इलाज हेतु बनाई गई दवा coronil (कोरोनिल) को लॉन्च किया| बाबा रामदेव ने दावा किया है, कि आयुर्वेदिक औषधि इस वायरस को खत्म करने में कारगर है| आइए जानते हैं विस्तार से-

आज दोपहर 12 बजे किया गया लॉन्च: इससे पहले आचार्य बालकृष्ण जी ने ट्वीट करके इस बारे में बताया था कि कोरोना की एविडेंस बेस्ड पहली आयुर्वेदिक औषधि coronil (कोरोनिल) को साइंटिफिक डॉक्यूमेंट के साथ आज दोपहर 12 बजे लॉन्च किया जाएगा| हरिद्वार के पतंजलि योगपीठ में होने वाले इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में बाबा रामदेव, आचार्य बालकृष्ण के अलावा जो वैज्ञानिक, शोधकर्ता और चिकित्सक दवा के ट्रायल में मौजूद थे, वो भी शामिल हुए| बता दें कि इस आयुर्वेदिक दवा पर शोध पतंजलि रिसर्च इंस्टिट्यूट और जयपुर के नैशनल इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस ने मिलकर किया है|

coronil (कोरोनिल) tablet औषधिक जड़ी-बूटियों का मिश्रण है

इन जड़ी-बूटियों का है मिश्रण: बालकृष्ण के अनुसार ‘दिव्य कोरोनिल टैबलेट’ में अश्वगंधा, गिलोय, अणु तेल, श्वसारि रस और तुलसी जैसी औषधिक जड़ी-बूटियों को मिलाया गया है| उनके मुताबिक कोरोना से संक्रमित जिन मरीजों पर इस दवा को लेकर क्लिनिकल ट्रायल हुए उनमें 100 प्रतिशत नतीजे देखने को मिले हैं|

coronil (कोरोनिल) दवा से संक्रमण 5 से 14 दिनों में ठीक होगा

5 से 14 दिनों में ठीक होगा संक्रमण: उन्होंने दावा किया है कि इस दवा के सेवन से कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज 5 से 14 दिनों के भीतर स्वस्थ हो जाएंगे| बालकृष्ण के मुताबिक कोरोनिल दवा का सेवन सुबह और शाम में एक-एक बार किया जा सकता है| उनके अनुसार इस दवा में मौजूद अश्वगंधा इस वायरस के रिसेप्टर बाइंडिंग डोमेन को बॉडी के एंजियोटेंसिन कनवर्टिंग एंजाइम में मिलने से रोकता है| वहीं, गिलोय भी इंफेक्शन को कम करने में मददगार है|

coronil कोरोनिल और श्‍वसारि वटी: आचार्य बालकृष्ण ने बताया कि मार्केट में ‘दिव्‍य कोरोनिल टैबलेट’ मंगलवार से मिलनी शुरू हो जाएंगी| बता दें कि इस दवा का निर्माण हरिद्वार की दिव्‍य फार्मेसी और पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड कर रही है| इस टैबलेट के साथ ही कंपनी श्‍वसारि वटी टैबलेट भी लोगों के लिए उपलब्ध कराएगी| ये टैबलेट शरीर में बलगम नहीं बनने देती, साथ ही पहले से मौजूद बलगम को कम करके फेफड़ों में हुए सूजन को कम करती है|

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के लिए  हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है | हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें |

यह भी पढ़े – कैसे बने champion ( चैम्पियन ) दौलत के खेल में


Launch of coronil for COVID-19 epidemic treatment

Coronil Medicine: The world has been affecting by the rising outbreak of Coronavirus. Today, around 9209930 people are infecting with the COVID-19 epidemic in the world. The number of infected people is increasing day by day. The number of people infected with this virus is also increasing in India. According to the Union Health Ministry, there are more than

4 lakh 40 thousand total cases of corona positive in the country. However, it has more number of recovered patients than active cases.

Scientists from all over the world have not been able to make medicines of this deadly virus till now. Meanwhile, Baba Ramdev today launched ‘Coronil’, a drug designed to treat the coronavirus. Baba Ramdev has claimed that Ayurvedic medicine is effective in eradicating this virus. Let’s know in detail-

Launched at 12 noon: Earlier, Acharya Balakrishna Ji had tweeted that Coronail’s first Ayurvedic medicine based Coronil will be

launched at 12 noon today with a scientific document. Baba Ramdev, Acharya Balakrishna, besides the scientists, researchers,

doctors who were present in the drug trials attended this press conference to be held at Patanjali Yogpeeth, Haridwar. Explain that research on this Ayurvedic medicine is doing jointly by Patanjali Research Institute and National Institute of Medical Science, Jaipur.

Coronil (Coronil) tablet is a combination of medicinal herbs.

Because there is a mixture of these herbs: According to Balakrishna, ‘Divine Coronil Tablet’ has added medicinal herbs like Ashwagandha, Giloy, Molecule Oil, Shvasari Ras, and Tulsi. According to him, 100 percent of results have been seen in patients who were infecteing with corona who have undergone clinical trials regarding this drug.

Infection with coronil drug will heal in 5 to 14 days

The infection will be cured in 5 to 14 days:

Because They have claimed that patients infected with Coronavirus will be healthy within 5 to 14 days with the use of this medicine. According to Balakrishna, coronil medication can be consume once in the morning and evening. According to him, the ashwagandha present in this drug prevents the receptor-binding domain of this virus from

getting into the body’s angiotensin-converting enzyme. At the same time, Giloy is also helpful in reducing infections.

coronil and Svasari Vati: Acharya Balakrishna said that ‘Divya Coronil tablets’ will start being available in the market from Tuesday. Explain that this drug is being manufacturing by Divya Pharmacy of Haridwar and Patanjali Ayurved Limited. Along with this tablet, the company will also make Svasari Vati tablets available to the public. These tablets do not allow mucus to form in the body, as well as

reduce the inflammation in the lungs by reducing the pre-existing mucus.

4 thoughts on “अब coronil (कोरोनिल) tablet से covid-19 का इलाज की सम्भावना|जानिए दावे की सत्यता”

Leave a Comment

%d bloggers like this: