Positive Thoughts -पॉजिटिव थॉट्स अबाउट लाइफ और सकारात्मक विचार

Positive Thoughts -कहते हैं कि शब्दों में बहुत ताकत होती है। अगर आप पॉजिटिव बोलेंगे- सोचेंगे तो होगा भी वैसा ही। पॉजिटिव लोगों के साथ रहने से हमारे आस- पास पॉजिटिव किरणें बनी रहती हैं। दरअसल हमारे पास दो तरह के बीज होते हैं, सकारात्मक विचार (positive thoughts ) और नकारात्मक विचार (Negative Thoughts), जो आगे चलकर हमारे नजरिये और व्यवहार रूपी पेड़ का निर्धारण करते हैं। हम जैसा सोचते हैं, वैसा ही बन जाते हैं। इसलिए कहा जाता है कि जैसे हमारे विचार होते हैं, वैसा ही हमारा आचरण होता है।

हमारे विचारों पर हमारा स्वयं का नियंत्रण होता है इसलिए यह हमें ही तय करना होता है कि हमें सकारात्मक सोचना है या नकारात्मक। यह पूरी तरह से हम पर निर्भर करता है कि हम अपने दिमाग रूपी जमीन में कौन- सा बीज बोना चाहते हैं। थोड़ी सी समझदारी से हम कांटेदार पेड़ को महकते फूलों के पेड़ में बदल सकते हैं। अगर आपको अपने जीवन में सफल होना है तो आपको आज से ही अपनी सोच सकारात्मक बनानी होगी। यहां हम आपके साथ महान लोगों के द्वारा सकारात्मक सोच (good thoughts) पर कहे गये, पॉजिटिव थॉट ऑफ़ द डे और ज़िंदगी से जुड़े अनुभवों के से भी ज्यादा कोट्स (sakaratmak vichar), शेयर कर रहे हैं, जिनसे आपको यकीनन बहुत फायदा होगा।

बेस्ट पॉजिटिव थॉट्स – Positive Thoughts

1. गलती उसी से होती है, जो मेहनत करता है
निकम्मों की ज़िंदगी तो दूसरों की गलती खोजने में ही खत्म हो जाती है।

2. मेरी गलतियां मुझसे कहो दूसरों से नहीं,
क्योंकि सुधरना मुझे है उनको नहीं..

3. करोड़ों की भीड़ में इतिहास मुट्ठी भर लोग ही बनाते हैं,
वही रचते हैं इतिहास, जो आलोचना से नहीं घबराते हैं…

4. मुलाकात जरूरी है अगर रिश्ते निभाने हों,
वरना लगाकर भूल जाने से पौधे भी सूख जाते हैं।

5. ज़िंदगी के इस रण में खुद ही कृष्ण और खुद ही अर्जुन बनना पड़ता है,
रोज़ अपना ही सारथी बनकर जीवन की महाभारत को लड़ना पड़ता है।

6. दुनिया के दो असंभव काम,
मां की “ममता” और पिता की “क्षमता” का अंदाजा लगा पाना।

7. ज़माना भी अजीब है,
नाकामयाब  लोगों का मजाक उड़ाता है ..
और कामयाब लोगों से जलता है।

8. ईश्वर ने हमें धरती पर एक खाली चेक की तरह भेजा है,
गुणों और योग्यताओं के आधार पर हमें स्वयं अपनी कीमत उसमें भरनी होती है।

9. हर पतंग जानती है, अंत में कचरे में ही जाना है,
लेकिन उसके पहले उसे आसमान छू के दिखाना है।

10. हम समझते कम हैं, समझाते ज्यादा हैं,
इसलिए हम सुलझते कम, उलझते ज्यादा हैं।

11. कौन सी बात, कब, कैसे कही जाती है,
ये सलीका हो तो हर बात सुनी जाती है।

12. फूल कभी दो बार नहीं खिलते,
जन्म कभी दो बार नहीं मिलते,
मिलने को तो हजारों लोग मिल जाते हैं
पर हजारों गलतियां माफ करने वाले
मां-बाप नहीं मिलते।

13. सारा झगड़ा ही ख्वाहिशों का है,
न गम चाहिए, न कम चाहिए।

14. किसी के हक की रोटी छीनकर,
खाने से ज्यादा अच्छा है भूखे रहना।

15. जिस घर में बेटियों और बहुओं के
खिलखिलाने की आवाज़ आती है
उस घर में वास्तु दोष कभी नहीं होता है।

16. बेगुनाह कोई नहीं, सबके राज़ होते हैं,
किसी के छुप जाते हैं, किसी के छप जाते हैं..।

17. खुशी से जीने के बहाने ढूंढें,
गम तो किसी भी बहाने मिल जाता है।

18. वो गलतियां बहुत दर्द देती हैं,
जिनकी माफी मांगने का वक्त निकल चुका होता है।

19. निकाल के जिस्म से जो अपनी जान देता है,
बड़ा ही मजबूत है वो पिता जो कन्यादान देता है।

20. हीरे को परखना है तो अंधेरे का इंतज़ार करो
धूप में तो कांच के टुकड़े भी चमकने लगते हैं।

21. हम नींद में सपने देखते हैं,
लेकिन ईश्वर हमें हर दिन नींद से
जगाकर उन सपनों को
पूरा करने का एक मौका देते हैं।

22. लगातार हो रही असफलताओं से निराश नहीं होना चाहिए,
कभी-कभी गुच्छे की आखिरी चाबी भी ताला खोल देती है।

23. क्रोध से शुरू होने वाली हर बात,
लज्‍जा पर समाप्‍त होती है।

24. हर कोई मिलता है यहां,
पहनकर सच का नकाब,
कैसे पहचाने कोई,
कौन है अच्छा कौन खराब।

सकारात्मक विचार (Positive Thoughts)

1. बिंदास मुस्कुराओ क्या गम है,
ज़िंदगी में टेंशन किसको कम है,
अच्छा या बुरा तो केवल भ्रम है,
ज़िंदगी का नाम ही
कभी खुशी कभी गम है।

2. पानी जैसे बनो
जो अपना रास्ता खुद बनाता है,
पत्थर जैसे नहीं
जो दूसरों का रास्ता रोकता है।

3. एक सफल व्यक्ति वह है
जो दूसरों द्वारा खुद पर
फेंकी गयी ईंटों से
एक मजबूत नींव बना सके।

4. आते हैं हर किसी के दिन
बेहतर, ज़िंदगी के समुद्र में
हमेशा तूफान नहीं होते ।

5. भरोसा “खुदा” पर है तो
जो लिखा है तक़दीर में वही पाओगे,
भरोसा अगर “खुद” पर है तो
खुदा वही लिखेगा जो आप चाहोगे।

6. संतान चाहे कितनी भी बड़ी हो जाये,मां का आंचल कभी छोटा नहीं होता।

7. अगर तुम उस वक्त मुस्कुरा सकते हो जब
तुम पूरी तरह टूट चुके हो,
तो यकीन कर लो कि
दुनिया में तुम्हें कभी कोई तोड़ नहीं सकता

8. सबको उसी तराजू में तोलिए
जिसमें खुद को तोलते हो

फिर पता चलेगा,
लोग उतने भी बुरे नहीं है
जितना हम समझते हैं।

9. पिता नीम के पेड़ के
जैसा होता है, जिसके
पत्ते भले ही कड़वे हों
पर वह छाया
हमेशा ठंडी ही देता है।

10. वाणी में भी अजीब शक्ति होती है
कड़वा बोलने वाले का
शहद भी नहीं बिकता..
और मीठा बोलने वाले की
मिर्ची भी बिक जाती है..!

11. अधिक ध्यान उस पर दें
जो आपके पास है,
उस पर नहीं जो
आपके पास नहीं है।

12. मां-बाप की दवाई की पर्ची
अक्सर खो जाती है…
पर लोग वसीयत के
कागजात बहुत संभाल कर रखते हैं।

13. मुस्कान की कोई कीमत नहीं होती।
यह पाने वाले को खुशहाल करती है
और देने वाले का कुछ घटता भी नहीं।

14. वक्त कब क्या रंग दिखाए हम नहीं जानते,
वरना जिस राम को रात में राज्य मिलने वाला था
उसे सुबह वनवास ना मिलता!

15. कोयल अपनी भाषा बोलती है,
इसलिए आज़ाद रहती है पर तोता दूसरे की भाषा बोलता है,
इसलिए पिंजरे में जीवन भर गुलाम रहता है।

16. एक मिनट में ज़िंदगी नहीं बदलती पर
एक मिनट सोचकर लिया हुआ फैसला
पूरी ज़िंदगी बदल देता है।

17. किसी को कभी दु:ख मत देना
क्योंकि दी गई चीज एक दिन
हजार गुनी होकर लौटती है।

15. मुसीबत सब पर आती है,
कोई बिखर जाता है और कोई निखर जाता है।

16. जो औरों के चेहरे पर मुस्कुराहट देखना चाहते हैं,

ऊपरवाला उनके चेहरे की मुस्कान कभी नहीं छीनता…

17. सच्चाई के रास्ते पर चलना फायदे की बात होती है क्योंकि
इस राह पर भीड़ कम होती है।

18. जरूरी नहीं रोशनी चिरागों से ही हो,
बेटियां भी घर में उजाला करती हैं।

19. पानी मर्यादा तोड़े तो ‘विनाश’ और
वाणी मर्यादा तोड़े तो ‘सर्वनाश’
इसलिए वाणी पर संयम रखें।

20. ज़िंदगी तो उसकी है जिसके मरने पर ज़माना अफसोस करे,
वरना जन्म तो हर किसी का मरने के लिए होता है।

21. एक मुंह और दो कान का अर्थ है कि
हम अगर एक बात बोलें तो कम से कम दो बात सुनें भी।

22. दिल लगाने से बेहतर है पेड़ लगाएं,
वो घाव नहीं कम से कम छांव तो देंगे।

23. जो आप से जलते हैं उनसे घृणा कभी न करें
क्योंकि यही तो वह लोग हैं,
जो यह समझते हैं कि आप उनसे बेहतर हैं।

भगवत गीता के अनमोल वचन (Positive Thoughts)

1. क्रोध से भ्रम पैदा होता है। भ्रम से बुद्धि व्यग्र होती है। जब बुद्धि व्यग्र होती है, तब तर्क नष्ट हो जाता है। जब तर्क नष्ट होता है, तब व्यक्ति का पतन हो जाता है।

2. भगवान या परमात्मा की शांति उनके साथ होती है, जिनके मन और आत्मा में एकता/सामंजस्य हो, जो इच्छा और क्रोध से मुक्त हों, जो अपने स्वयं/खुद की आत्मा को सही मायने में जानते हों।

3. व्यक्ति जो चाहे बन सकता है यदि वह विश्वास के साथ इच्छित वस्तु पर लगातार चिंतन करे।

4. वह जो सभी इच्छाएं त्याग देता है और “मैं ” और “मेरा ” की लालसा और भावना से मुक्त हो जाता है, उसे शांति प्राप्त होती है।

5. अपने कर्म पर अपना दिल लगायें, ना कि उसके फल पर।

6. स्वार्थ से भरा हुआ कार्य इस दुनिया को कैद में रख देगा। अपने जीवन से स्वार्थ को दूर रखें, बिना किसी व्यक्तिगत लाभ के।

7. ज्ञानी व्यक्ति को कर्म के प्रतिफल की अपेक्षा कर रहे अज्ञानी व्यक्ति के दिमाग को अस्थिर नहीं करना चाहिए।

8. जो व्यक्ति भी जिस किसी भी देवता की पूजा विश्वास के साथ करने की इच्छा रखता है, मैं उसका विश्वास उसी देवता में दृढ़ कर देता हूँ।

9. अपनी चेतना को एकजुट करना चाहिए और फल के लिए इच्छा/लगाव छोड़ देना चाहिए।

10. जो होने वाला है वो होकर ही रहता है और जो नहीं होने वाला वह कभी नहीं होता।  ऐसा निश्चय जिनकी बुद्धि में होता है उन्हें चिंता कभी नहीं सताती।

गौतम बुद्ध विचार (Positive Thoughts)

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

1. हजारों दीयों को एक ही दीये से, बिना उसके प्रकाश को कम किये जलाया जा सकता है। खुशी बांटने से खुशी कभी कम नहीं होती।

2. वह जो पचास लोगों से प्रेम करता है उसके पचास संकट हैं, वो जो किसी से भी प्रेम नहीं करता उसका एक भी संकट नहीं है।

3. नफरत- नफरत से नहीं बल्कि प्रेम से खत्म होती है। यह ही परम सत्य है।

4. अपने मोक्ष के लिए खुद ही प्रयत्न करें, किसी और पर निर्भर न रहें।

5. तीन चीजें अधिक देर तक नहीं छुप सकतीं- सूरज, चंद्रमा और सत्य।

6. सभी गलत कार्य मन से उपजते हैं। अगर मन परिवर्तित हो जाये तो कोई और गलत कार्य नहीं हो सकता।

7. शरीर को स्वस्थ रखना हमारा कर्तव्य है वरना हम अपने दिमाग को स्वच्छ और मजबूत नहीं रख पाएंगे।

8. जो लोग चतुराई से जीते हैं, उन लोगों को मौत से भी डरने की जरूरत नहीं है।

9. तुम कभी भी अपने क्रोध के लिए दंड नहीं पाओगे बल्कि तुम अपने क्रोध द्वारा दंड पाओगे।

10. किसी चीज पर यकीन मत करो, ये मायने नहीं रखता कि आपने उसे कहां पढ़ा है या किसने उसे कहा है, कोई बात नहीं अगर मैंने ये कहा है, जब तक कि वो आपके अपने तर्क और समझ से मेल नहीं खाती।

स्वामी विवेकानंद के विचार (Positive Thoughts)

Positive Thoughts

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

1. उठो, जागो और तब तक नहीं रुको, जब तक लक्ष्य ना प्राप्त हो जाए।

2. बस वही जीते हैं, जो दूसरों के लिए जीते हैं।

3. हम वो हैं जो हमें हमारी सोच ने बनाया है, इसलिए इस बात का ध्यान रखिए कि आप क्या सोचते हैं। शब्द गौण हैं, विचार रहते हैं। वे दूर तक यात्रा करते हैं।

4. जो तुम सोचते हो वो हो जाओगे। यदि तुम खुद को कमजोर सोचते हो, तुम कमजोर हो जाओगे, अगर खुद को ताकतवर सोचते हो, तुम ताकतवर हो जाओगे।

5. एक विचार लो। उस विचार को अपना जीवन बना लो, उसके बारे में सोचो, उसके सपने देखो, उस विचार को जियो। अपने मस्तिष्क, मांसपेशियों, नसों, शरीर के हर हिस्से को उस विचार में डूब जाने दो और बाकी सभी विचार को किनारे रख दो। यही सफल होने का तरीका है।

6. जब तक जीना, तब तक सीखना, अनुभव ही जगत में सर्वश्रेष्ठ शिक्षक है।

7. किसी दिन, जब आपके सामने कोई समस्या ना आए, आप सुनिश्चित हो सकते हैं कि आप गलत मार्ग पर चल रहे हैं।

8. सबसे बड़ा धर्म है अपने स्वभाव के प्रति सच्चा होना। स्वयं पर विश्वास करो।

9. एक समय में एक काम करो और ऐसा करते समय अपनी पूरी आत्मा उसमें डाल दो और बाकी सब कुछ भूल जाओ।

10. ब्रह्मांड की सारी शक्तियां पहले से हमारी हैं। वो हम ही हैं, जो अपनी आंखों पर हाथ रख लेते हैं और फिर रोते हैं कि कितना अंधकार है।

महात्मा गांधी के अनमोल वचन (Positive Thoughts)

Positive Thoughts

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

1. थोड़ा सा अभ्यास बहुत सारे उपदेशों से बेहतर है।

2. आप जो भी करते हैं वह कम महत्वपूर्ण हो सकता है, लेकिन सबसे महत्वपूर्ण यह है कि आप कुछ करें।

3. पहले वो आप पर ध्यान नहीं देंगे, फिर वो आप पर हंसेंगे, फिर वो आप से लड़ेंगे, और तब आप जीत जाएंगे।

4. आप तब तक यह नहीं समझ पाते कि आपके लिए कौन महत्त्वपूर्ण है, जब तक आप उन्हें वास्तव में खो नहीं देते।

5. केवल प्रसन्नता ही एकमात्र इत्र है, जिसे आप दूसरों पर छिड़कें तो उसकी कुछ बूंदें अवश्य ही आप पर भी पड़ती हैं।

6. ऐसे जियो कि तुम कल मरने वाले हो, ऐसे सीखो कि तुम हमेशा के लिए जीने वाले हो।

7. खुद वो बदलाव बनिए, जो दुनिया में आप देखना चाहते हैं।

8. सत्य एक है, मार्ग कई।

9. मेरी अनुमति के बिना कोई भी मुझे ठेस नहीं पहुंचा सकता।

10. अक्लमंद काम करने से पहले सोचता है और मूर्ख काम करने के बाद। 

महान दार्शनिक सुकरात के पॉजिटिव कोट्स (Positive Thoughts)

1. इस दुनिया में सम्मान से जीने का सबसे महान तरीका है कि हम वो बनें, जो होने का हम दिखावा करते हैं।

2. अगर सम्मान पाना है तो दूसरों के साथ वही व्यवहार करें, जैसा बनने का आप दिखावा करते हैं।

3. ज़िंदगी नहीं बल्कि एक अच्छी ज़िंदगी मायने रखती है।

4. एक ईमानदार व्यक्ति हमेशा ही एक बच्चे की तरह होता है।

5. सभी लोगों की आत्मा अमर है लेकिन जो व्यक्ति नेक इंसान होता है, उसकी आत्मा दिव्य और अमर है।

6. दोस्ती आराम से करें। लेकिन जब एक बार दोस्ती हो जाये तो उसे बहुत ही मजबूती के साथ निभाते हुए चलें।

7. जहां सम्मान होता है वहां डर होता है, जहां सम्मान नहीं होता वहां डर भी नहीं होता।

8. अगर आप बहुत इच्छाएं रखते हैं तो यह आपके अंदर बहुत नफरत पैदा करेगा।

9. अगर खुद को जानना है तो खुद के बारे में सोचिये।

10. मैं किसी को भी कुछ नहीं सिखा सकता लेकिन मैं उन्हें सोचने पर मजबूर कर सकता हूं।

अटल बिहारी वाजपेयी कोट्स (Positive Thoughts)

Positive Thoughts

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

1. मौत की उम्र क्या है ? दो पल भी नहीं, ज़िंदगी सिलसिला, आज कल का नहीं,
मैं जी भर जिया, मैं मन से मरूं,
लौटकर आऊंगा, कूच से क्यों डरूं।
क्यों न मैं क्षण- क्षण को जिऊं,
कण- कण में बिखरे सौंदर्य को पिऊं ?

2. होना, न होने का कर्म, इसी तरह चलता रहेगा,
हम हैं, हम रहेंगे, ये भ्रम भी सदा पलता रहेगा।

3. मेरे प्रभु! मुझे इतनी ऊंचाई कभी मत देना, गैरों को गले न लगा सकूं।

4. छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता और टूटे मन से कोई खड़ा नहीं होता है।

5. आप दोस्त बदल सकते हैं लेकिन पड़ोसी नहीं |

6. मैं हमेशा से ही वादे लेकर नहीं आया, बल्कि इरादे लेकर आया हूं।

7. सच सबसे बड़ा हथियार है और हर कोई जानता है कि
सरकारी जगहों पर हथियार लेकर नहीं जा सकते।

8. मेरे पास न दादा की दौलत है और न बाप की,
मेरे पास सिर्फ मां का आशीर्वाद है।

नरेंद्र मोदी के सुविचार (Positive Thoughts)

1. मेरे लिए धर्म का मतलब काम के प्रति निष्ठा है और निष्ठापूर्वक काम करना धार्मिक होना है।

2. काम करने का कोई अवसर मिलना मेरे लिए सौभाग्य की बात है। मैं उसमें अपनी आत्मा को डाल देता हूं। ऐसा ही हर एक अवसर अगले अवसर का द्वार खोल देता है।

3. इच्छा + स्थिरता = संकल्प और संकल्प + कड़ी मेहनत = सफलता

4. हम सभी के अंदर अच्छे और बुरे दोनों गुण होते हैं। जो अच्छे गुणों पर ध्यान केन्द्रित करते हैं वो ही जीवन में सफल होते हैं।

5. वक्त कम है, जितना दम है लगा दो… कुछ लोगों को मैं जगाता हूं, कुछ लोगों को तुम जगा दो।

6. मैं खेल को सिर्फ शरीर तंदुरुस्त करने के तरीके के रूप में नहीं देखता। मैं इसे शिक्षा के उपकरण के रूप में देखता हूं जो मन को प्रोत्साहन देता है और अनुशासन को बढ़ावा देता है।

7. मैं एक छोटा आदमी हूं, जो छोटे लोगों के लिए बड़े काम करना चाहता है।

8. कड़ी मेहनत कभी थकान नहीं लाती, वह तो संतोष लाती है।

9. कुछ बनने के लिए सपने मत देखो बल्कि कुछ महान करने के लिए सपने देखो।

10. समाज की सेवा करने का अवसर हमें अपना ऋण चुकाने का मौका देता है।

secret of success सफलता का रहस्य क्या है ? सफलता के मूल मंत्र जानिए | success mantra
success definition सफलता की परिभाषा क्या है ? web hosting service अथवा एक वेब होस्ट की आवश्यकता क्या है?
web hosting  क्या है? सम्पूर्ण जानकारी What is Web Hosting in Hindi? वेब होस्टिंग क्या है?
Conference Call Kya Hai? Conference Call Kaise Kare? – जानिए? web hosting free Top Company जानिए WordPress Blog के लिए

software के प्रकार और परिभाषा क्या है ? जानिए

महाभारत की सम्पूर्ण कथा! Complete Mahabharata Story In Hindi

ऑनलाइन शिक्षा के फायदे और नुकसान क्या है ?

पहला अध्याय – Chapter First – Durga Saptashati

ऐसी सोच बदल देगी जीवन
कैसे लाए बिज़्नेस में एकाग्रता
लाइफ़ की क्वालिटी क्या है
बड़ी सोच से कैसे बदले जीवन
सफलता की राह कैसे चले अमीरों के रास्ते कैसे होते है
कैसे सोचे leader की तरह
किस तरह बड़ी सोच पहुँचाती है शिखर पर
क्या आप डर से डरते हो या डर को भगाते हों ? गौमाता के बारे में रोचक तथ्य
सक्सेस होने के रूल
हेल्थ ही असली धन है
हीरे की परख सदा ज़ौहरी ही जाने

Google search engine क्या है ? जानिए विस्तार पूर्वक

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के लिए  हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है | हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें |

 

Leave a Comment

%d bloggers like this: