Wednesday, April 17, 2024
Homeबड़ी सोचसफल बिंदु

सफल बिंदु

”जब लोग आपकी नक़ल करने लगे तो संभावना है, आप या तो सफल आदमी हो या सफलता के रास्ते पर।”

सफल बनो।

  • हमें अपने क्षेत्र occupation में सफल होना चाहिए। वह क्षेत्र चाहे कोई भी हो। success होना अपने आप में महत्वपूर्ण गुण है। जैसे -यदि हम businessman है तो, business में सफल होना चाहिए।
  • इसी तरह यदि हम खेल जगत में है,तो Best player बनकर सफलता को प्राप्त करे। या international best player बनकर सफल होवे।
  • कुछ इसी तरह हम अभिनय को अपना occupation बना रखा है, तो एक्टिंग में सफलता पाए

सफल बिंदु  Details

Name Of Article सफल बिंदु
सफल बिंदु Click Here
Category Badi Soch
Facebook follow-us-on-facebook-e1684427606882.jpeg
Whatsapp badisoch whatsapp
Telegram unknown.jpg
Official Website Click Here

success सफल कैसे हो?

अब प्रशन यह बनता है, कि हम सफल कैसे होवे? अर्थात सफलता के लिए आवश्यक गुण कौनसे है?

वह हर आदमी सफल हो सकता है, जो अपना इच्छित occupation चुने। उस occupation मे उसकी रूचि हो। और सफलता के लिए प्राणों से चाहत हो, जिस occupation को वह चुने। तथा  वह occupationया Business उसके लिए कुछ सीमा तक अनुकूल हो।’ किसी भी क्षेत्र मे सफल होने के लिए इंसान मे कुछ गुण अथवा special qualities होनी चाहिए। जो इस प्रकार है.. 

अनुशासित बने।

यदि कोई व्यक्ति talented है, तो किसी भी क्षेत्र या विषय में जल्दी success हो सकता है। और सफलता प्राप्ति में talent का महत्व भी काफ़ी अधिक है। लेकिन ”यदि कोई talented नहीं है, तो भी वह success हो सकता है।” लेकिन सफलता प्राप्ति के लिए स्वयं को अनुशासन का पालन करना होगा इसी तरह कुछ अतिरिक्त बिंदु है, जिन्हें follow करना चाहिए। तथा समय का पाबन्द भी होना होगा। ये जो महत्वपूर्ण बिंदु है निम्न प्रकार है —

आलोचनाओं को इग्नोर कैसे करे सौभाग्यशाली कैसे बने
खाना खाने व पानी पीना
क्यूँ ज़रूरी है अच्छा स्वास्थ्य
हेल्थ टिप्स हिंदी में
स्वावलंबी बनने के लाभ
कैसे है अनुशासन ही सफलता की कुंजी
भरोसेमंद होने के फ़ायदे
योग है जीवन जीने की कला कैसे
भगवान शिव के राज
कैसे हुआ भगवान शिव का अवतरण दान का फल और महत्व
ऐसी सोच बदल देगी जीवन
कैसे लाए बिज़्नेस में एकाग्रता
लाइफ़ की क्वालिटी क्या है
बड़ी सोच से कैसे बदले जीवन
सफलता की राह कैसे चले अमीरों के रास्ते कैसे होते है
कैसे सोचे leader की तरह
किस तरह बड़ी सोच पहुँचाती है शिखर पर
क्या आप डर से डरते हो या डर को भगाते हों ? गौमाता के बारे में रोचक तथ्य
सक्सेस होने के रूल
हेल्थ ही असली धन है
हीरे की परख सदा ज़ौहरी ही जाने
चैम्पीयन कैसे बने

  शुरुआत करो।

कुछ भी कार्य अथवा Business करो तुरंत शुरु करो। अर्थात शुरुआत करने के लिए ज्यादा समय west नही करना चाहिए। यह नहीं सोचना चाहिए की मै असफल होऊँगा। या मेरे पास experience नहीं है। अर्थात ready होने से पहले start भी जरुरी है। अन्यथा ready होने के बारे में ही सोचते सोचते ही समय west करते रहोगे। यही सोचते रह जाओगे की कहा से शुरु करू। याद रहे ‘असफलता ही सफलता की सीढ़ी  है।’

 आत्मविश्वास से सफलता

किसी भी क्षेत्र या विषय में expert होने के लिए उसे शुरु करना जरुरी होता है। जैसे जैसे आप आगे बढ़ेंगे, वैसे ही आपका confidence भी बढ़ता जायेगा। शुरुआत में धैर्य बनाये रखे। मेहनत करे confidence खुद ब खुद increase होगा।

ज्ञान और आचरण मे सामंजस्य जरूरी

किसी भी विषय में ज्ञान महत्वपूर्ण होता है। लेकिन ज्ञान होना ही काफ़ी नही होता। ज्ञान का आचरण में होना जरुरी होता है। अर्थात कार्य- रूप देना या apply भी करना होगा। फिर आप सफल होंगे। विदित रहे आचरण के बगैर ज्ञान भी बोझ है।

विचार

अपने best विचार शेयर करो। जो दूसरे लोगो के लिए महत्वपूर्ण साबित हो। कुछ नया करने के लिए try  करते रहना चाहिए। वो नया कार्य हो या विचार। ‘महत्वपूर्ण कार्य हो या सफलता प्राप्ति’ इनमे कभी कभी critinism का सामना करना पड़ता है। इसलिए होसला रखे।सफलता की यात्रा मे ”किसके विचार है के बजाये कितने महत्वपूर्ण विचार ”ज्यादा मायने रखता है।

सफलता स्पष्ट script द्वारा सफल बने।

सफलता के लिए यह भी best विचार है ”तुम्हे एक अच्छी script चाहिए या तुम्हारी ही लिखी script चाहिए। अर्थात अपने ego को दरकिनार करे और Best विचार अपनाए। सफलता के लिए best विचार और script चाहिए। अतः best views script अपनाओ और सफलता प्राप्त करो। इनके अतिरिक्त दुसरो को दोष देना  बंद करे क्योंकि ,

दूसरो को दोष देना बंद करो और सफल बनो।

गर आप अपनी असफ़लता श्रेय किसी दुसरे को देने का प्रयास करते है, तो आप स्वयं का ही नुकसान करते है। क्योंकि आप अपनी असफलता का दोष किसी और को देने का प्रयास करते है तो, आप स्वयं की गलतियों को नजरअंदाज करते है। आपको अच्छी तरह से समझ लेना चाहिए की हम अपनी सफलता और असफलता के स्वयं ही जिम्मेदार है। लेकिन ऐसा नहीं होता, हम सफलता का श्रेय तो ले लेते है, लेकिन असफलता के लिए दूसरे को दोषी मान कर अपने मन को आश्वस्त कर लेते है।

जब आप अपने मन को आश्वस्त कर लेते है, तो वह आपको नकारात्मकता और विफलता की तरफ ले जाना सुरु कर देता है। और ये सब कुछ आपके सामने होता है। लेकिन आप उसका ध्यान नही दे पाते है। इसलिए हमारे जीवन में आज जो कुछ भी हो रहा है, उसके लिए हम स्वयं पूर्ण रूप से जिम्मेदार है। अगर इसे हम जितनी जल्दी समझ लेते है, तो आने वाली हर परेशानी और समस्या से निपट सकते है।

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के लिए  हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है । हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें ।

सफ़लता के लिए important point जो follow करना जरुरी है । विस्तार से पढ़े ।

सम्पूर्ण Durga Saptashati

इन्हे भी देखे –

सफल

 

parmender yadav
parmender yadavhttps://badisoch.in
I am simple and honest person
RELATED ARTICLES

12 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular